ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
टोंक : बच्ची से दुष्कर्म और हत्या का आरोपी तीन दिन की पुलिस रिमांड पर, कोर्ट में वकीलों ने पिटाई की कोशिश की
December 5, 2019 • Dr. Surendra Sharma

कार्यालय संवाददाता

टोंक। अलीगढ़ इलाके में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के मामले में आरोपी को पुलिस ने मंगलवार को पोक्सो कोर्ट में पेश किया। यहां घटना से आक्रोशित वकीलों ने कोर्ट परिसर में आरोपी से हाथापाई का प्रयास किया। इससे जमकर हंगामे की स्थिति बनी। कोर्ट ने आरोपी को 3 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। एएसपी विपिन कुमार शर्मा ने बताया कि आरोपी महेंद्र मीणा उर्फ धौल्या (39) निवासी गांव खेड़ली, तहसील अलीगढ़ को सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कोर्ट से पांच दिन का रिमांड मांगा था। लेकिन, कोर्ट ने 6 दिसंबर तक 3 दिन का रिमांड दिया। वहीं, आरोपी महेंद्र के कोर्ट में पेश होने की खबर मिलने पर आक्रोशित वकील काफी संख्या में इकट्ठा हो गए। पुलिस ने कहा- लोगों का गुस्सा होना जायजः एडिशनल एसपी ने कोर्ट में पेशी के लिए सुरक्षा घेरा बनाकर आरोपी को बचाया। एएसपी ने हंगामे को लेकर कहा कि यह मानवीय स्वभाव है। इस तरह की घटना सामने के बाद लोगों में गुस्सा होना स्वाभाविक है। लेकिन, उसे बचाना भी ड्यूटी है। एएसपी ने मामला शांत होने पर बार ऐसोसिएशन का आभार भी जताया। पुलिस की गाड़ी से उतरते ही आरोपी को वकीलों ने आरोपी महेंद्र को गाड़ी से नीचे उतारकर कोर्ट की तरफ ले जाने लगी, तभी वकीलों ने उसको पकड़ लिया और पिटाई करने की कोशिश करने लगे। इस बीच महेंद्र को बचाने के प्रयास में पुलिस और वकीलों के बीच धक्कामुक्की हुई। काफी हंगामा हुआ। लेकिन, महेंद्र उर्फ धौल्या का कोर्ट से रिमांड मिलने पर पुलिस उसे सुरक्षित वापस ले गई। यह था मामला खेड़ली गांव में छह साल की बच्ची शनिवार को स्कूल गई थी। दोपहर तीन बजे घर लौटते वक्त पड़ोस में रहने वाला ट्रक ड्राइवर महेंद्र मीणा उर्फ धौल्या उसे टॉफी दिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। घर से करीब तीन सौ मीटर दूर सुनसान जगह पर महेंद्र ने बच्ची से दुष्कर्म किया। इसके बाद स्कूल बेल्ट से बच्ची की गला घोंटकर हत्या कर दी थी। इसके बाद खुद को बचाने के लिए शाम करीब साढ़े 7 बजे से बच्ची के परिजन के साथ मिलकर उसे तलाशने का नाटक किया। रात को घर आकर सो गया। इस बीच पुलिस का खोजी कुत्ता उसके घर तक जा पहुंचा। संदेह होने पर पुलिस भी पहुंची और गिरफ्तार कर लिया। बच्ची मध्यप्रदेश के श्योपुर की रहने वाली थी। यहां वह ननिहाल में रहकर पढ़ाई करती थी।