ठाकरे मजबूर मुख्यमंत्री नहीं शिवसेना का इतिहास कायम करें
April 21, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 

ठाकरे मजबूर मुख्यमंत्री नहीं शिव सेना का इतिहास  कायम करें   

*साधुओं की हत्या  देश के गौरवशाली इतिहास की हत्या है*
*-सांसद दीयाकुमारी*

*जयपुर, 21 अप्रेल। मुंबई के पालघर में हुई दो साधुओं की निर्मम हत्या पर क्षोभ प्रकट करते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि शिवाजी महाराज के सनातन धर्म वाले इस देश में इस तरह की घटनाएं असहनीय है। साधुओं की हत्या व्यक्तियों की नहीं, इस देश के गौरवशाली इतिहास की हत्या है जिसे किसी भी परिस्थिति में बर्दास्त नहीं किया जा सकता है।

सरकार किसी भी दल की हो लेकिन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से इस तरह की उम्मीद नहीं थी। इस तरह की घटनाओं ने शिव सेना के विराट नेता स्व बाल ठाकरे की आत्मा को भी निश्चित रूप से असहज किया होगा। 

 सांसद दीयाकुमारी ने तुरंत कार्यवाही की मांग करते हुए सीएम ठाकरे से कहा कि वह मजबूर मुख्यमंत्री के रूप में नहीं बल्कि शिव सेना के इतिहास के अनुरूप निर्णय लेकर कठोर कार्यवाही करे ।