ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
शपथ लेने से पहले सभी विधायकों ने अपने नेताओं और भगवान का नाम लिया नियम की अनदेखी करते हए उद्धव और उनके मंत्रियों ने शपथ ली थी, राज्यपाल ने आपत्ति जताई
November 30, 2019 • Dr. Surendra Sharma

एजेंसी

मुंबई। यहां गुरुवार को हुए उद्धव ठाकरे और उनके मंत्रियों के शपथ ग्रहण के तरीके पर महाराष्ट के राज्यपाल ने आपत्ति जताई है। नियमों और तय प्रकिया का उल्लंघन करते हुए विधायकों ने राज्यपाल द्वारा शपथ शुरू करने से पहले अपने- अपने नेताओं और भगवान को याद किया। किसी ने छत्रपति शिवाजी महाराज को स्मरण किया तो किसी ने बाला साहेब मुताबिक, राज्यपाल ने आगे किसी भी ठाकरे, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और कार्यक्रम में ऐसा न करने की हिदायत दी। शरद पवार का नाम लिया।

उद्धव ठाकरेः शपथ ग्रहण की शुरुआत में कहा- छत्रपति शिवाजी महाराज का वंदन और बालासाहब ठाकरे का स्मरण करते हुए मैं शपथ लेता हूं..।

एकनाथ शिंदेः मैं शिवसेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे का वंदन करते हुए, धर्मवीर आनंदी गेर का स्मरण करते हुए, माता-पिता के आशीर्वाद के साथ और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री माननीय उद्धव ठाकरे का आशीर्वाद लेकर मैं शपथ लेता हूं...।

सुभाष देसाईः छत्रपति शिवाजी महाराज और माननीय बालासाहब ठाकरे का वंदन करते हुए शपथ लेता हूं...।

जयंत पाटिलः आदरणीय शरद पवार साहब का वंदन करते हुए शपथ लेता हूं...।

छगन भुजबलः जय महाराष्ट, जय शिवराय, मैं महताम ज्योतिराव फुले, छत्रपति शिवराय, बाबा साहब अम्बेडकर, गायत्रीमाता फुले का वंदन करता हूं। बाला साहब ठाकरे के स्मृति स्थल का वंदन करता हूं और आदरणीय शरद पवार साहब के आदेश के अनुसार माननीय उद्धव साहब ठाकरे के मंत्रिमंडल में शामिल होने को लेकर शपथ लेता हूं...।

बालासाहब थोराटः आदरणीय सोनिया गांधी जी के आशीर्वाद के अनुसार मैं शपथ लेता हूं...।

नितिन राउतः मैं सबसे पहले परमपूज्य डॉ. बाबासाहब अम्बेडकर का वंदन करता हूं और आदरणीय सोनिया और राहुल गांधी के आशीर्वाद के साथ मैं शपथ लेता हूं...।