ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
सरयू तट पर श्रद्धालुओं ने इबकी लगाई, दर्शन के लिए मंदिरों में भीड़, सरक्षा कड़ी
November 11, 2019 • VISHESH KUMAR SHARMA

 

अयोध्या।

134 साल पुराने अयोध्या जमीन विवाद में फैसले के बाद रविवार सुबह यहां के सरयू तट पर लोग उत्साहित नजर आए। लोग तड़के से ही घाट पर स्नान के लिए पहुंचने लगे और रोज के मुकाबले ज्यादा भीड़ जुटी। श्रद्धालुओं ने मंदिरों में पूजा-अर्चना की और श्रीराम के जयकारे लगाए। सुरक्षा चाक-चौबंद है, सड़कों पर हालात सामन्य हैं, हालांकि कुछ रास्तों पर वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित है। सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को विवादित जमीन पर राम मंदिर बनाने और मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया है। हनुमानगढ़ी: मंदिरों में भक्तों की भीड़, चौराहे पर लोगों में चर्चा हनुमानगढ़ी में श्रद्धालुओं की भीड़ सुबह से ही उमड़ पड़ी। रोज की तरह ही उन्हें कड़ी सुरक्षा में चेकिंग से गुजरना पड़ा। बनारस के रहने वाले सुदामा अग्निहोत्री भी दर्शन करने पहुंचे। उन्होंने बताया कि मुझे दर्शन करने में कोई दिक्कत नहीं हुई। लोग दर्शन करने आ रहे हैं। भीड़ बहुत तो नहीं, लेकिन कम भी नहीं है। रामलला विराजमान रामलला के दर्शन करने पहुंच रहे श्रद्धालु सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद रामलला विराजमान के आसपास सुरक्षा काफी कड़ी कर दी गई है। दर्शनार्थियों की संख्या आम दिनों से भले ही कम रही, लेकिन रामलला के दर्शन पाने की इच्छा पर्यटन केंद्र के रूप में अधिक देखने को मिली। मधुकरिया संत मिथिला बिहारीदास ने बताया कि रामलला के दर्शन करने से काफी सुखद अनुभूति मिली। फैसले के बाद आज के दर्शन खास हैं। राम जन्मभूमि और कनक भवन अन्य मंदिरों में भीड़ सामान्य राम जन्मभूमि और कनक भवन में सामान्य दिनों की तरह भीड़ नहीं है। दर्शन करने वालों को थोड़ा चेकिंग से गुजरना पड़ रहा है। बाजार, मंदिर और सरयू घाट पर लोग आ रहे हैं। दशरथ महल, भरत मिलाप, राज द्वार शीश महल, करुणानिधान भवन, मंदिर में लव-कुश मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ का आना जाना है। किसी भी तरह की रोक टोक नहीं है। लोगों ने कहा- आज राम मंदिर वाली सुबह यहां के मंदिर, चौराहे और सड़कों पर भीड़ दिखने लगी है। छुट्टी का दिन होने की वजह से सुबह से ही अयोध्या में लोग घूमने निकले। लोगों में भाईचारा दिखास्थानीय लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। अब उनकी यही इच्छा है कि यहां अमन-चैन कायम रहे। दोनों समुदायों के लोग शांति के साथ रहें। लोगों का कहना था कि इस फैसले के बाद अब अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा। इस शहर में विकास की गंगा बहेगी। लोगों को रोजगार मिलेगा। लोगों का कहना था कि आज राम मंदिर वाली सुबह ने अयोध्या वासियों का स्वागत किया है।