सनातन राम रसोई निरंतर सेवा में सक्रिय
April 16, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 

सनातन राम रसोई निरंतर सेवा में सक्रिय                  जयपुर 16 अप्रैल।सनातन सेवा समिती,खातीपुरा* जयपुर जो विगत 22 दिन से दिहाड़ी मजदूर, बेरोजगार व निराश्रित भाई बहनों के लिए, 150  से अधिक सक्रिय सदस्यों व 136 से भी अधिक भामाशाहों , रोटरी क्लब जयपुर नॉर्थ व श्री गुलाब देवी कौशल्या चेरिटेबल ट्रस्ट के निस्वार्थ सहयोग से जन व  सेवार्थ अनवरत निर्बाध रूप से  सनातन राम रसोई संचालित कर रही है । समिति के मुख्य कार्यकारी सदस्य गणेश सिंह, हेमेंद्र सिंह, वाई पी सिंह, राम कुमावत व कामिनी माथुर ने बताया कि सनातन राम रसोई आगामी लोक डाउन तक सभी जरूरत मंद भाई बहनों के लिए निरंतर चालू रखा जाएगा।

बुधवार*तेइसवे दिन* सनातन सेवा समिति द्वारा  25 से भी अधिक कार्यकर्ताओं द्वारा *643* स्वादिष्ट भोजन के पैक तैयार किए जिसमें चपाती, सब्जी , पूरी, चावल पुलाव शामिल है। इस भोजन सामग्री को  *चांद बिहारी नगर, तारा नगर ई, महंत कॉलोनी व *सनातन राम रसोई* के आस पास के क्षेत्र में  *सम्मान पूर्वक* जरूरतमंद भाई बहनों को वितरित किया गया।इसके अलावा, झोटवाड़ा थाने में भी लगभग *200* भोजन के पैकैट सर्व जन हेतु पहुंचाए गए।। दस से अधिक सूखे राशन के पैक दिए गए। कुल भोजन पैक संख्या *643* से ऊपर रही।

बुधवार के मुख्य सेवादार रह *गणेश सिंह, राम कुमावत,वाई पी सिंह, कामिनी माथुर, निखिल माथुर, हिम्मत सिंह, हेमेंद्र सिंह, धर्मेन्द्र सिंह, नरेश सिंह, भीम सिंह, उपेन्द्र सिंह, अजित सिंह, सुरेन्द्र सिंह ( सिबू बना) वीरेंद्र सिंह (पिंटू बना) , अजित सिंह, राजेन्द्र सिंह ( राजू बना) दीपेंद्र सिंह , गजेन्द्र सिंह , नागेन्द्र सिंह एवं अन्य सनातनी भाई  रहे*

अब तक लगभग *9765* से अधिक फूड पैकेट्स व *250* से अधिक सूखे राशन के पेक, सेंकड़ों की संख्या में मास्क, सेनेटाइजर व ग्लव्स वितरित किए जा चुके है। खाना बनाने से लेकर वितरण तक हाथो में ग्लव्स, मुंह पर मास्क व हेंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल हर सदस्य द्वारा किया जाता है। सक्षम थाना अधिकारी द्वारा अनुज्ञा पत्र में नामित सदस्य व वाहन ही इस कार्य में उपयोग होते है। निरीह पक्षियों के लिए जेकब रोड पर निरंतर  पक्षी दाना डलवाया जा रहा है। गाय व स्वान आदि के लिए भी समिति के सदस्य अपने स्तर पर भोजन व्यवस्था कर रहे है।

खाना वितरण करते समय समस्त क्षेत्र वासियों को प्रधान मंत्री द्वारा सुझाए गए सात नियम भी याद करवाए जाते है। घर पर ही रहे, निश्चित रहे, सुरक्षित रहे, सुरक्षित रखे, सरकारी कानून व आदेश का अक्षरशः पालन करे। ऐसी अपील की जाती है

 इस सनातन राम रसोई को चलाने वाले 136 से अधिक भामाशाह, 30-40 से अधिक सक्रिय रूप से निस्वार्थ सेवा व  श्रम दान देने वाले कोरोना योद्धा व परम पिता परमेश्वर की यह सनातन सेवा समिति सदैव ॠणी है और रहेगी जिन्होंने इस असंभव को  सम्भव में बदल दिया।

समिति के सभी जागरूक सदस्यों की तरफ से सभी कर्मठ कोरोना योद्धाओं , भामाशाहों व संसाधन उपलब्ध करवाने वालों का दिल की अंतर्मन की गहराइयों से आभार, वंदन, अभिनंदन व स्वागत।