ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
सबसे बड़ा अनुष्ठान 90 देशों के 10 लाख से अधिक घरों में हुआ एक साथ हवन   
June 1, 2020 • Dr. Surendra Sharma

  सबसे बड़ा अनुष्ठान 90 देशों के 10 लाख से अधिक घरों में हुआ एक साथ हवन       बीकानेर । वैश्विक महामारी कोरोना को खत्म करने के लिए गायत्री मंत्र के साथ 90 देशों में 10 लाख से अधिक घरों में एक साथ एक समय पर गायत्री यज्ञ किया गया। वही हमारे देश के गांव गांव ,ढाणी ढाणी, शहर शहर के लाखों घरों में भी एक साथ एक समय पर गायत्री हवन किया गया । गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पवन ओझा ने बताया कि सरकारी एडवाइजरी का पालन करते हुए बड़े कार्यक्रम के बजाय नैनो पद्धति से संपूर्ण विश्व में फैली वैश्विक महामारी कोरोना को ख़त्म करने के लिए कलयुगी विभीषिका के शमन, स्वस्थ राष्ट्र ,नशा मुक्त समाज तथा भाईचारे की स्थापना के लिए दुनिया के 90 देशों के 10लाख से भी अधिक घरों में गायत्री महामृत्युंजय मंत्र के माध्यम से विशेष जड़ी बूटियों से एक निश्चित समय में गायत्री यज्ञ किया गया।                                                                भारतीय आयुष विभाग द्वारा प्रमाणित किया गया है कि यज्ञ हवन की धूम्र से वातावरण का शुद्धिकरण होता है और विभिन्न प्रकार के वायरस बैक्टीरिया तथा विषैली गैस जनित प्रभाव भी खत्म हो जाते हैं । गायत्री परिवार बीकानेर के मीडिया प्रभारी देवेंद्र सारस्वत ने बताया कि अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के दिशा निर्देशन में पिछले एक माह से इस वैश्विक अभियान की तैयारी चल रही थी। जिसमें कोरोना महामारी के वैश्विक स्तर पर शारीरिक, मानसिक, सामाजिक प्रभाव को खत्म करने के लिए घर पर ही यह हवन किया जाना था। एक परात में हल्दी और आटे से हवन वेदी निर्माण करते हुए या लोहे के हवन कुंड का उपयोग करते हुए उसमें खोपरा ,कपूर, दिया बाती अथवा संविदा जलाकर जो, तेल, खांड ,चावल तथा गौ घृत या विशेष जड़ी-बूटी युक्त हवन सामग्री से चौबीस गायत्री मंत्र, पांच महामृत्युंजय मंत्र तथा महामारी निवारणार्थ विशेष वैदिक बीज मंत्रों से आहुतियां दिलाने के लिए कहा गया था। जिसके लिए श्रद्धालुओं द्वारा ऑनलाइन अग्रिम पंजीयन करवाया गया ।बीकानेर में दो सौ अधिक घरों में एक हजार व्यक्तियों द्वारा इस यज्ञ अभियान में जन कल्याण तथा महामारी से मुक्ति हेतु आहुतियां दी गई। आहुति उपरांत अपने आराध्य इष्ट देव की संकल्प आरती कर प्रसाद, लोंग ,इलाइची, मिश्री युक्त प्रसाद तथा आयुर्वेदिक काढ़ा वितरण किया गया। कोरोना संक्रमण से बचाव तथा लोक कल्याण के लिए इस अनूठे प्रयोग में बीकानेर से करणी दान चौधरी, शोभा सारस्वत, पवन ओझा, मुकेश व्यास, भारत भूषण गुप्ता, दीया धनंजय सारस्वत ,शिव नरेश सिंह चौहान, मधुबाला शर्मा सहित सैकड़ों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। इससे पूर्व गायत्री जयंती के अवसर पर पुरानी गिनानी स्थित गायत्री शक्तिपीठ की बीकानेर में स्थापित गायत्री माता का विशेष श्रृंगार करते हुए वैदिक मंत्रों से पूजन किया गया तथा अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के संस्थापक युग ऋषि पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य के महाप्रयाण दिवस पर गुरु निमित्मिमित यज्ञ में आहुतियां प्रदान की गई।