ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
रैपिड एक्शन फोर्स 7 अक्टूबर को मनाएगी वर्षगांठ
October 7, 2020 • Dr. Surendra Sharma

रैपिड एक्शन फोर्स 7 अक्टूबर को मनाएगी वर्षगांठ

जयपुर-सीआरपीएफ की रैपिड एक्शन फोर्स एनिवर्सरी यानी वर्षगांठ सप्ताह मना रही है। 7 अक्टूबर को आरएएफ का स्थापना दिवस मनाया जाएगा। रैपिड एक्शन फोर्स यानी द्रुत कार्य बल पूरे भारतवर्ष में हुये साम्प्रदायिक दंगों के बाद ऐसे बल की आवश्यकता महसूस की गई जो देश मे साम्प्रदायिक दंगों से निपटने में सक्षम हो और उसकी विश्वनीयता भी हो। अक्टूबर 1992 में सीआरपीएफ के 10 स्वाधीन बटालियन को परिवर्तित करके रैपिड एक्शन फोर्स बनाया गया था। रैपिड एक्शन फोर्स को दंगों से निपटने, समाज के बीच विश्वास पैदा करने और देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए गठित किया गया था। 

7 अक्टूबर को गुरुग्राम में रैपिड एक्शन फोर्स का स्थापना दिवस समारोह आयोजित किया जाएगा। इस मौके पर रैपिड एक्शन फोर्स स्थापना दिवस परेड का भी आयोजन होगा। हिंसा से निपटने की बात हो या अन्य किसी प्रकार के दंगों पर काबू करना हो, रैपिड एक्शन फोर्स पिछले 28 साल से लगातार तत्परता से अपनी सेवाएं दे रही है। रैपिड एक्शन फोर्स देश को आंतरिक खतरों से बचाने का काम कर रही है। राजधानी जयपुर के आमेर में लालवास स्थित रैपिड एक्शन फोर्स की 83 बटालियन कानून व्यवस्था बनाने के लिए तैनात की गई है। जिसकी मुख्य भूमिका दंगों और दंगों की स्थिति से निपटना है। रैपिड एक्शन फोर्स 83 बटालियन की ओर से कई सराहनीय कार्य भी किए गए हैं। 83 बटालियन अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए सामाजिक सरोकार के कार्य भी कर रही है। रैपिड एक्शन फोर्स 83 बटालियन की ओर से आदिवासी युवा आदान प्रदान समारोह का आयोजन, जम्मू और कश्मीर के स्कूली बच्चों का भारत भ्रमण, बटालियन द्वारा गोद लिये गए गांव में सामाजिक गतिविधियां, कोविड-19 महामारी लोक डाउन के दौरान जरूरतमंदों की सहायता, बटालियन के क्षेत्र में वृक्षारोपण कार्यक्रम, 

सिविक एक्शन कार्यक्रम, प्रौढ़ शिक्षा का आयोजन, चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन, कौशल विकास और कैरियर काउंसलिंग कार्यक्रमों का आयोजन, 

फिट इंडिया फ्रीडम रन का आयोजन, 

भारत के विभिन्न क्षेत्रों में चुनावी ड्यूटियो का सफलतापूर्वक निर्वहन, कानून व्यवस्था की ड्यूटियो का निर्वहन और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की ओर से आयोजित पैरा साइकिल रैली का राजस्थान में स्वागत समारोह समेत अनेक कार्य किए गए हैं।

 

जनवरी 2018 में 5 और बटालियन जोड़कर वर्तमान में रैपिड एक्शन फोर्स की 15 विशेष प्रशिक्षित और सुसज्जित बटालियन है। फोर्स में महिला कर्मियों की टीम भी शामिल है। रैपिड एक्शन फोर्स की मुख्य भूमिका आमतौर पर दंगों और दंगों की स्थिति से निपटना होता है। इसके अलावा भारत सरकार के निर्देशानुसार रैपिड एक्शन फोर्स को कानून और सुरक्षा व्यवस्था, चुनावी कर्तव्यों के लिए भी तैनात किया जाता है। रैपिड एक्शन फोर्स देश की सुरक्षा के साथ केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देशानुसार विभिन्न प्रकार सयुक्त राष्ट्र संघ की शांति सेना के रूप में कई देश में ड्यूटी कर रही हैं और सामाजिक गतिविधियां भी करती रहती है।

 

रैपिड एक्शन फोर्स 83 बटालियन के कमांडेंट प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि रैपिड एक्शन फोर्स सबसे विश्वसनीय फोर्स है, जो बिना समय गवाएं कम से कम समय में संकट की स्थिति में घटनास्थल पर पहुंच जाती है। सामान्य जनता के बीच तुरंत पहुंचकर उन्हें विश्वास पैदा करना और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करना रैपिड एक्शन फोर्स की जिम्मेदारी है। जब भी देश में लॉ एंड ऑर्डर की बात आती है, तो रैपिड एक्शन फोर्स सबसे आगे आकर अपनी सेवाएं देती है। राजधानी जयपुर में स्थापित रैपिड एक्शन फोर्स 83 बटालियन ने भी कई सराहनीय कार्य किए हैं। 83 बटालियन ने चुनाव में अहम भूमिका निभाई। आर्टिकल 370 के चलते जम्मू एंड कश्मीर में जाकर कार्य किया। सीएए के अंदर दिल्ली में जो दंगे फसाद हुए उसमें भी रैपिड एक्शन फोर्स ने अपनी सेवाएं दी। इससे साथ ही कर्नाटक में भी दंगे फसादो में रैपिड एक्शन फोर्स ने अपनी सेवाएं दी थी। 7 अक्टूबर तक रैपिड एक्शन फोर्स का एनिवर्सरी सप्ताह मनाया जा रहा है। गुरुग्राम में 7 अक्टूबर को एनिवर्सरी परेड का आयोजन किया जाएगा। एनिवर्सरी सप्ताह के दौरान भी रैपिड एक्शन फोर्स की ओर से कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। सीआरपीएफ के द्वारा गोद लिए हुए गांव में चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कौशल विकास कार्यक्रम के तहत सिलाई, कढ़ाई और कटाई के लिए भी महिलाओं को प्रोत्साहित किया गया। प्रौढ़ शिक्षा कार्यक्रम के तहत शिक्षा से वंचित वरिष्ठ नागरिक जनों को शिक्षा प्रदान की गई। जिससे वृद्धजन भी अपने आप को सशक्त महसूस कर सकें। कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन में भी रैपिड एक्शन फोर्स ने लोगों की सहायता की है। राशन वितरण से लेकर जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने के सभी कार्य किए। रैपिड एक्शन फोर्स देश की सेवा के लिए हमेशा तत्पर है।