रामगंज में कोरोना के दस केस आने के बाद प्रशासन ने कर्फ्यू में की सख्ती
March 31, 2020 • Dr. Surendra Sharma

रामगंज में कोरोना के दस केस आने के बाद प्रशासन ने कर्फ्यू में की सख्ती, पुराने सभी पास किये रद्द

जयपुर 31 मार्च ,रामगंज क्षेत्र में कोरोना के दस केस अब तक पॉजिटिव आए है। जयपुर शहर में कोरोना वायरस से जयपुरवासियों को सुरक्षित रखने के लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव  गृह राजीव स्वरूप ने आदेश जारी किये हैं। चारदीवारी  क्षेत्र में कर्फ्यू लगा हुआ है। अब इस क्षेत्र को पूर्णतया सील किया जा रहा है। एवं उसमें किसी भी प्रकार की आवाजाही प्रतिबन्धित रहेगी। 
- जो लोग परकोटा क्षेत्र में रहते है वे अवब वहीं रहेंगे। 
- केवल चिकित्साकर्मी, जिला प्रशासन, नगर निगम के कर्मियों को परकोटा क्षेत्र से बाहर आने दिया जाएगा। 
- यदि कोई और व्यक्ति जो इस क्षेत्र में निवास करता है और आवश्यक सेवाओं को बरकरार रखने के लिए उसकी परकोटा क्षेत्र से बाहर सेवाएं आवश्यक है, तो उसके संबंध में अलग से पास दिया जाए। परकोटा क्षेत्र में केवल इन लगों को प्रवेश की अनुमति रहेगी। 
1- जिला प्रशासन एवं पुलिस
2- अत्यावश्यक सेवाओं से संबंधितकर्मी-नगर निगम, फायर बिग्रेड, रसद विभाग, बिजली, पानी, बैंक और एटीएम संबंधितकर्मी
3- समस्त प्रकार के चिकित्साकर्मी (राजकीय एवं निजी)
इन सभी व्यक्तियों को उनके अधिकारिक पहचान पत्र पर प्रवेश दिया जाएगा। 
4- मीडियाकर्मी और समाचर पत्र वितरक
5- गैस सिलेण्डर के वितरण से संबंधितकर्मी ,समस्त वे व्यक्ति जिनका आवश्यक वस्तुओं से संबंधित दुकाने एवं सुवाएं परकोटा क्षेत्र में है व उनके कर्मी-लेबर। इनको पुलिस द्वारा पास उलब्ध करवा दिया जाएगा। 
- जो वाहन आवश्यक खाद्य व अन्य साम्रगी, दूध, दवाईयां, परकोटा क्षेत्र में सप्लाई करते, यथा सभंव परकोटे की सीमा में उनको परकोटा सीमा क्षेत्र के अंदर के वाहनों में ट्रांसफर करने में सामान को गंतव्य स्थान पर पहुंचाया जाएगा। 
- जो स्वयंसेवी संस्थाएं आदि परकोटा क्षेत्र के लिए खाने के पैकेट अथवा राशन साम्रगी सप्लाई कर रहे थे। उनसे कहा गया है कि अब यह सप्लाई सीमा तक ही रखे, जिससे आगे उसके वितरण की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जाएगी। परकोटा क्षेत्र के लिए जो भी वाहन अथवा व्यक्तिगत पास जारी किए गए थे। वे आज शाम 6 बजे से वैध नहीं होंगे। जो कोई भी परकोटा क्षेत्र में रहता है वह मंगलवार शाम 6 बजे तक घर वापस लौट जाए। 
पुलिस द्वारा नया पास जारी किया जाएगा। 
- पास लेने की व्यवस्था ऑनलाइन राजकोप सीटिजन मोबाइल एप पर की गई है, जो प्ले स्टोर से डाउनलोड की जा सकती है। अन्यथा यह पास आपातकालीन स्थिति में मौके पर पुलिस अथवा प्रवेश स्थान पर चैक पोस्ट पर पुलिस द्वारा भी उपलब्ध कराया जा सकेगा 
- चारदीवारी क्षेत्र से जो भी व्यक्ति अथवा वाहन बाहर जा रहे है, उनको सेनेटाइज किया जाएगा। 
- चारदीवारी क्षेत्र के लोगों से अपील की गई कि वह कर्फ्यू और घर में रहने की शर्तों का उल्लंघन नहीं करें। 
- पुलिस द्वारा सख्ती से कर्फ्यू शर्तों को सुनिश्चत किया जाएगा। पुलिस की मदद के लिए एसडीआरएफ भी तैनात की जा रही और फ्लैगमार्च भी किया जाएगा।
- चिकित्सा विभाग द्वारा घर घर सर्वे किया जा रहा है। अपील है कि इस सर्वे में पूरा सहयोग करें और हमारी हैल्थ टीम आपके घर आए तो घर के एक एक सदस्य का चैकअप कराए। यह आपके और आपके परिवार की सुरक्षा के लिए आवश्यक है। 
- इसी प्रकार यदि आपके पास किसी भी परिवार के सदस्य  अथवा परिचित को बुखार, खांसी अथवा सांस लेने में कठिनाई जैसे लक्षण दिखे तो बिना समय बर्बाद करे वह 181 हैल्पलाइन पर फोन करें। मेडिकल उनके पास जांच के लिए शीघ्र पहुंच जाएगी। अगर किसी ने ऐसा नहीं किया तो उसके परिवार को खतरा होने की संभावना काफी हो सकती हैं। चिकित्सा टीम को लगे के किसी परिवार के सदस्य को कोरोना वायरस के संक्रमण की प्रबल संभावना है तो वह उसको चिकित्सा उपलब्ध करवाने के लिए अपने साथ ले जाएंगे। जिससे उसकी देखभाल हो सके। इसके सभी सहयोग करे। अगर ऐसा नही किया तो उसकी भी जान को खतरा रेहगा और आपके घर में रह रहे अन्य सदस्यों और बिल्डिंग में रहने वाले लोगों की जान को खतरा हो सकता हैं। 
- घर की छतों पर भी दूरी बनाए रखे और एक छत से दूसरी छत पर ना जाए और ना ही किसी को आने दें। 
- परकोटे के निवासियों द्वारा कर्फ्यू की शर्तों की पूर्ण पालना सुनिश्चित करने के उदेष्य से पुलिस निगरानी रखने के साथ साथ हवाई निगरानी और ड्रोन से निगरानी रखेगी। 
- यह गंभीर स्थिति चल रही है। इसलिए जो कोई भी व्यक्ति कर्फ्यू की शर्तों का उल्लंघन करते हुए पाया गया उसका गिरफ्तार किया जा सकता हैं। 
- परकोटा क्षेत्र में रह रहे लोगों को आवश्यक खाद्य साम्रगी की उपलब्धता जिला प्रशासन द्वारा सुनिश्चित की जा रही है। 
- कोरोना वायरस किसी भौगोलिक सीमा को नहीं जानता इसलिए सरकार की ओर से सुरक्षा के लिए जो निर्देश दिए गए है, उसकी पूरी पालना करे। जिससे परिवार सुरक्षित रहें।