ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
राजधानी में सट्टे पर बड़ी कार्रवाई : 37.50 लाख रुपये सहित 9 आरोपी गिरफ्त में 
September 15, 2020 • Dr. Surendra Sharma

राजधानी में सट्टे पर बड़ी कार्रवाई : 37.50 लाख रुपये सहित 9 आरोपी गिरफ्त में 

 मौके पर 7  करोड़ का हिसाब–किताब बरामद

जयपुर 14 सितम्बर ।पुलिस कमिश्नरेट की स्पेशल टीम ने इंग्लैंड - आस्ट्रेलिया वनडे क्रिकेट मैच पर करोड़ों  रुपये का सट्टा पकड़ा  है। जयपुर में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लाखों रुपये नकदी सहित 9 नामी सटोरियों को गिरफ्तार किया है । जानकारी के अनुसार यह कार्रवाई पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव के निर्देश में हुई। 

 जहां शहर में क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया है । प्रताप नगर में एएसपी सुलेश चौधरी ने कार्रवाई को अंजाम देते हुए मौके से 9 नामी सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 37 लाख 50 हजार रुपये नकद व गुजरात नंबर की 8 गाडियों को जब्त किया है । 

 इस कार्रवाई का सुपरविजन कर रहे अतिरिक्त पुलिस आयुक्त प्रथम अजय पाला लांबा के अनुसार यहां उपकरण से दुबई और गुजरात सहित अन्य राज्यों से लाइने चालू थी ।

 इस गिरोह को गुजरात निवासी सट्टा किंग दुबई में बैठा ऑपरेट कर रहा था । पुलिस के अनुसार इस उपकरण की लाइनों से अन्य राज्य के बड़े–बड़े सटोरिये भी जुड़े हुए थे जो कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले मैच पर सट्टा लगा रहे थे । गिरफ्तार किए गए आरोपियों में अंकित जैन, प्रदीप जैन, योगेश जैन, मनीष बेदी, नितिन जैन, अतुल मंगल, शुभम जैन, रवि जैन और आशीष जैन प्रमुख हैं। 

 पुलिस के अनुसार मौके पर करीब 7 करोड़ से अधिक सट्टे का हिसाब – किताब बरामद हुआ है और 37 लाख पचास हजार रुपये नकद मिले है । इसके अलावा गुजरात नंबर की 8 गाडियां भी जब्त की गई है । फिलहाल क्राइम ब्रांच सटोरियों से पूछताछ कर रही है । बता दें कि आईपीएल मैच शुरू होने से पहले पुलिस की यह बडी कार्रवाई है । इस कार्रवाई से बड़े–बड़े सटोरियों में हड़कंप मचा हुआ है। कमिश्नरेट  द्वारा गठित स्पेशल टीम में लखन खटाना पुलिस निरीक्षक, राजेश कुमार सउनि, द्वारका प्रसाद स उनि,कानि. राजकुमार माँडियां, चालक रामकृष्ण, दीपक त्यागी स उनि, हरलाल हैड कानि, गणेश राम, चन्द्र भान, नेमीचन्द, जसवंत, पुरुषोंतम स उनि, मान सिंह, कृष्ण वतार, जगदीश, कान सिंह, सोहनलाल, राजेश कुमार, गिरधारी एवं प्रेम प्रकाश ने इस कार्य वाही को अंजाम दिया।