प्रत्येक जन्म व मृत्यु के साथ एक एक पेड लगाये ।   
July 27, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 

पेड लगाये, व्यक्तिगत व सामुहिक सहयोग से !                प्रत्येक जन्म व मृत्यु के साथ एक एक पेड लगाये ।                 

राजसमंद 27 जुलाई ।  पर्यावरण संरक्षण व संर्वधन की जिम्मेदारी व्यक्तिगत व सामुहिक है, अतः हमें मिलकर पर्यावरण का कार्य करना होगा । आज आशापुरा मानव कल्याण ट्रस्ट द्वारा पेड दिये जा रहे है व डोलेश्वर महादेव मन्दिर समिति व अन्य संस्थाओं का साथ लेकर पेड को बडा करने व सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने कि कार्य करेंगे व सरकारी विभाग / प्रशासन के साथ लेकर हम सभी सम्मलित होकर पर्यावरण संरक्षण व संर्वधन के कार्य की शुरुआत की । यह विचार सीए. दिनेश सनाढ्य अध्यक्ष अपना ट्रस्ट द्वारा व्यक्त किये गये ।

आशापुरा मानव कल्याण ट्रस्ट के अध्यक्ष नानजीभाई गुर्जर द्वारा पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रतिवर्ष पर्यावरण जागरूकता रैली निकाली जाती है तथा साथ में पौधे भी वितरण की जाते हैं, इसी कड़ी में इस वर्ष पर्यावरण जागरूकता रैली "पन्नाधाय महाराणा प्रताप निर्मल भारत बनाओ" अभियान की शुरुआत डोलेश्वर महादेव , गारियावास से की जा रही है इस वर्ष 25000 पौधे वितरण का लक्ष्य रखा गया है । आज 100 पौधों का पौधारोपण डोलेश्वर महादेव पहाड़ी पर किया गया तथा साथ में मुख्य अतिथि तेजसिंह , रेन्जर, वन विभाग, लोकपाल, मनेरगा व दिनेश सनाढ्य द्वारा हरी झंडी दिखाकर पर्यावरण जागरूकता रैली की शुरुआत की गई । इस अवसर पर नानजीभाई गुर्जर ने कहा कि हम प्रत्येक तहसील , ग्राम पंचायत स्तर पर जागरूकता की रैली निकालते हुए, पौधा वितरण किया जाएगा तथा लोगों को वृक्षारोपण के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा ।इस अवसर पर मोहन लाल गुर्जर, भँवर सिह, यश गुर्जर, गायत्री शक्ति पीठ के मोहनलाल गुर्जर ,उपस्थित थे ।

इसके साथ ही सालमपुरा स्कूल मे 15 पौधे लगाये, जिसकी जिम्मेदारी नारायण सिंह व स्कूल स्टाफ व बच्चों ने ली ! रामेश्वर विला, धोईन्दा रामेश्वर महादेव रोड पर 30 पौधे लगाये जिसकी जिम्मेदारी संजय जैन, दीपक जैन व अमित वर्मा, पप्पू लाल कीर व काँलोनी निवासियों ने ली ।

पेड़ पौधे धरती का सिंगार है तथा शंकर भगवान की जटाए हैं, इसलिए डोलेश्वर महादेव मंदिर के द्वारा आसपास संपूर्ण पहाड़ी पर अभी करीब 500 पेड़ लगाए गए तथा आज 100 पौधों का पौधारोपण का लगाए जा रहे हैं । यह कि वृक्ष व्यक्ति के लिए आवश्यक है तथा आज श्रावण के सोमवार पर भगवान शिव को हमारी तरफ से भेट है । इन सब पौधों को वृक्ष बनाने के लिए तथा इनका पालन पोषण व सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारे मंदिर समिति लेती है तथा इस पूरे क्षेत्र में आने वाले 5 सालों में वृक्षों का जंगल खड़ा करने की हमारा लक्ष्य रहेगा तथा यह हमारे पर्यावरण संरक्षण के लिए स्वयं कार्य करके जागरूकता फैलाने का प्रयास रहेगा । समिति के सदस्य मांगीलाल  गाडरी, हजारीलाल, भोपा गाडरी ,सुरेश  गाडरी, रमेश  गाडरी, किशन  गाडरी, जीतू  गाडरी , माधु , गणेश  गायरी ,धर्मेश  गायरी ,वालू  गायरी ,परशुराम  गायरी, व्यापार मंडल के अध्यक्ष प्रहलाद  वैष्णव, नीलकंठ  सोनी,  सीए दिनेश चंद्र  सनाढ्य आदी सामुहिक जिम्मेदारी लेते है ।