ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
फर्जीवाड़ा कर बैक को चूना लगाने वालों पर प्रबंधन सख्त कार्रवाई करेगा -मो. इकबाल खान सीईओ
September 15, 2020 • Dr. Surendra Sharma

फर्जीवाड़ा कर बैक को चूना लगाने वालों पर प्रबंधन सख्त कार्रवाई करेगा -मो. इकबाल खान सीईओ     जयपुर 14 सितम्बर। जनता के खून पसीने को फर्जी दस्तावेजों के आधार पर फर्जी ऋण कमेटी की मीटिंग कर ,फर्जी वाउचर बनाकर 13 करोड़ की बैंक की राशि गबन करने वाले आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए बैंक के सी ई ओ मो. इकबाल खान ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा जमा कर्ताओं व सदस्यों के हितों की रक्षा के लिए 21-06-2016 के आदेशों की पालना में मोहम्मद इकबाल खान मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा अभी तक बैंक की पूर्व अध्यक्षा फिरोजा बानो द्वारा किए गए फर्जी डूबत ऋण खातों में छह करोड़ की वसूली कर ली गई है जिसकी रिपोर्ट आरबीआई व आरसीएस को भेजी जा चुकी है। 7 करोड़ के गबन की राशि बाबत थाना माणक चौक में राज्य सरकार के आदेशों में न्यायालय के आदेशों की पालना में पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर एफ आई आर पहले से दर्ज है। बैंक की पूर्व अध्यक्षा फिरोजा बानो तत्कालीन ऋण प्रभारी मदनलाल कट्टा उनके अपराध में शामिल भू माफिया जमीनों के फर्जी पट्टे बनाकर सरकारी पंजीयन कार्यालयों से रजिस्ट्री करवा कर, फर्जी रजिस्ट्री पर बैंक की पूर्व अध्यक्षा फिरोजा बानो व तत्कालीन ऋण प्रभारी मदनलाल कट्टा से मिलकर फर्जी ऋण उठाने वाले 63 आरोपियों में मुख्य आरोपी महेंद्र, किरण, सरला, पूनम, विनोद, अमित, कमल किशोर, नंदकिशोर, राधा देवी, रजनी, कमला देवी, फातिमा बेगम, निशा, सपना, सिंधु व अन्य सभी आरोपियों को गिरफ्तार करवाने की कानूनी कार्यवाही की जाएगी।                                                        राज्य सरकार द्वारा की गई सरकारी जांच में बैंक में फर्जी पट्टों पर ऋण उठाने से संबंधित वास्तविक मालिकों की सूची फर्जी ऋण कमेटी, फर्जी वाउचर बनाकर करोड़ों की राशि का वितरण करने, फर्जी निरीक्षण रिपोर्ट व अन्य दस्तावेज पुलिस को फर्द जब्ती के दौरान दिए जा चुके हैं। व बैंक में रहन रखी संपत्ति को अनेकों व्यक्तियों को बेचने बाबत उक्त रिकॉर्ड जयपुर विकास प्राधिकरण द्वारा पुलिस थाना माणक चौक को प्रेषित किए जा चुके हैं।                                                पुलिस थाना माणक चौक द्वारा आरोपियों के अपराध से संबंधित सभी दस्तावेज रिकॉर्ड पर लेने के बाद भी उन्हें अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। थाना माणक चौक के पुलिसकर्मियों से आरोपियों की सांठगांठ के संबंध में बैंक प्रबंधन द्वारा कार्यवाही की जा रही है। बैंक प्रबंधन को आरोपियों से लेन- देन के सबूत मिलते ही एसओजी में अपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जाएगा। जमा कर्ताओं के हितों की रक्षा हेतु बैंक से किए गए गबन की राशि वसूलवाने में राज्य सरकार का सहयोग किया जाएगा व आरोपियों को दंडित करवाने का हर संभव प्रयास जारी रहेगा।