ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
पट्टे का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट देने की एवज में 6 सौ रूपए की रिश्वत लेते विकास अधिकारी गिरफ्तार
January 2, 2020 • Dr. Surendra Sharma

भीलवाड़ा। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने जिले की बड़ला ग्राम पंचायत में एक विकास अधिकारी को बुधवार को 600 रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई एएसपी सौभाग्य सिंह के निर्देशन में इंस्पेक्टर शिवप्रकाश व उनकी टीम ने की। एएसपी सौभाग्य सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी हंसराज बैरवा (27) है। वह टोंक जिले में दूनी थाना इलाके का रहने वाला है।वह भीलवाड़ा के कोटड़ी तहसील में बड़ला पंचायत समिति में विकास अधिकारी है। उसके खिलाफ सोलंकियों का खेड़ा, ग्राम पंचायत बड़ला निवासी सोलंकी ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें बताया कि मुकेश ने अपने पिता व चाची चांदू देवी के पुश्तैनी मकान के पीटे के रजिस्ट्रेशन के लिए प्रमाण पत्र मांगा था। जिसे जारी करने की एवज में विकास अधिकारी हंसराज बैरवा ने परिवादी मुकेश सोलंकी से 1000 रूपए रिश्वत मांगी। तब एसीबी ने 30 दिसंबर को शिकायत का सत्यापन करवाया। जिसमें हंसराज ने मुकेश से 400 रूपए रिश्वत ली। इसके बाद बुधवार को रिश्वत की बकाया रकम 600 रूपए लेकर बुलाया। जहां परिवादी मुकेश ने कोटड़ी चौराहा, सवाईपुर पहुंचकर ज्योंही विकास अधिकारी हंसराज को रिश्वत की रकम दी। तभी ईशारा मिलते ही एसीबी टीम ने हंसराज बैरवा को रिश्वत की रकम के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। उसके जैकेट की आगे की बायीं जेब से रिश्वत बरामद कर ली।