ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
मोदरान गांव में मूलभूत सुविधाओं को लेकर भूख हड़ताल पर ग्रामीण
January 15, 2020 • Dr. Surendra Sharma
मंगलवर चौथे दिन भी भुख हडताल जारी
सायला। निकटवर्ती मोदरान के स्थानीय श्री आशापुरी चौराहे पर शनिवार को गांव में मूलभूत सुविधाओं की कमी को लेकर ग्रामीणों ने सांकेतिक व सोमवार से भूख हड़ताल की गई है। जो मंगलवार चौथे दिन भी जारी रही। इस संबंध में ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर, तहसीलदार व उपखंड अधिकारी को ज्ञापन भेजा है। मोदरान गांव में बिजली, पानी, सड़क, चिकित्सा सुविधा व कई जन समस्याओं के समाधान के लिए सोमवार से ग्रामीण पीरसिंह राजपुरोहित, भवरसिंह जागरवाल, हरीसिंह व कांतीलाल मेघवाल भूख हड़ताल व आमरण अनशन पर बैठे हैं। वही इनके साथ अनशन पर दुर्ग सिंह राजपुरोहित, राम सिंह,  अर्जुन सिंह राजपुरोहित, राजु विश्नोई, पांचाराम, अशोक सिंह जैतावत, फुला राम दमामी, शंभु सिंह राठौड़, गिरधारी सिंह राजपुरोहित सरपंच, कन्यालाल बोराणा, जगमालसिंह राजपुरोहित, मेवाराम सोलंकी सहित सैकड़ों ग्रामीण धरने पर बैठे हैं।
पानी की समस्या -
ग्रामीणों ने बताया कि मोदरान गांव में पिछले एक माह से पीने के पानी की सप्लाई अव्यवस्थित रूप से हो रही है। जिससे ग्रामीणों को पीने के पानी के लिए घण्टों इंतज़ार करना पड़ता है। वही कई दफा महंगे दामों में पानी खरीदकर लाना पड़ता है। जिससे ग्रामवासियों को आर्थिक मार झेलनी पड़ रही है।
विद्युत विभाग की लापरवाही -
मोदरान गांव में बिजली के तार व खम्भे भी अव्यवस्थित लगे हुए हैं। इसके साथ ही विद्युत विभाग के कर्मचारियों द्वारा मीटर रीडिंग सही व नियमित नहीं लिया जा रहा है। वही ग्राम में लाईनमेन द्वारा किसी प्रकार का फाल्ट होने पर हेल्पर को भेज कर लोगो से एक मामुली जम्पर तार ठीक करवाने के तीन सौ रुपये लेता है। वही ग्राम में सड़क मार्ग पर दोनो और कई जर्जर विद्युत पोल व स्पोट वॉयर लगे हुए हैं। सड़क मार्ग पर अतिक्रमण के साथ जगह-जगह गड्ढे हो चुके हैं। लेकिन प्रशासन इस तरफ कोई ध्यान नही दे रहा है।
चिकित्सालय में पद रिक्त-
ग्रामीणों के अनुसार मोदरान गांव में उप स्वास्थ्य केंद्र आयुर्वेदिक औषधालय पशु चिकित्सालय में डॉक्टर का पद कई माह से रिक्त है। जिससे ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वही सरकारी योजनाओं का लाभ भी नही मिल पा रहा है।
समय पर नही आती सरकारी बस-
मोदरान ग्राम में कोई सरकारी या निजी बस भी जालोर, भीनमाल व जसवंतपुरा जाने के लिए नियमित रूप से नहीं आ रही है। ग्रामीणों को मजबूरन निजी वाहन किराए पर लेकर जाना पड़ता है। जिससे ग्रामीणों को मुँहमाँगा दाम चुकाना पड़ता है। ग्रामीणों ने रोडवेज बस शुरू करने की मांग की है।
जारी रहेगा अनशन-
ग्रामीणों ने बताया कि अगर हमारे गांव में मूलभूत सुविधाओं की समस्या का समाधान नहीं किया गया तो हमारी भूख हड़ताल जारी रहेगी।
 
इनका कहना -
मोदरान गांव में बिजली, पानी, चिकित्सा आदि मूलभूत सुविधाओं की कमी को लेकर हम धरना दे रहे है। ग्राम में जलापूर्ति व्यवस्थित रुप से नही हो रही है। आखिर क्यों ग्राम में चिकित्सक नही है। इन समस्याओं के समाधान के लिए हम अनशन पर बैठे है। 
भवरसिंह जागरवाल ग्रामीण, मोदरान।
 
तकरीबन चार-छः माह से ग्राम में मूलभूत समस्याएं बनी हुई है। बिजली, पानी, सड़क, चिकित्सा सहित ग्राम में घूम रहे आवारा पशुओं के लिए प्रशासन द्वारा कोई प्रयास नही किया जा रहा है। जब तक हमारी मांगों पर सरकार कोई उचित कदम नही उठाती है, तब तक धरना जारी रहेगा।
पीरसिंह राजपुरोहित, सामाजिक कार्यकर्ता, मोदरान
 
हम जल्दी बिजली की रिडिंग लेने के लिए प्रतिदिन लाइनमैन को टैली करने के लिए भेजते हैं और कहीं पर भी कोई भी फोल्ड होता,  तो तुरंत समाधान करने का प्रयास करते हैं ।
फिरोज अख्तर, सहायक अभियंता विद्युत विभाग, डिस्कॉम रामसीन।