ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
महाराष्ट्र शिवसेना-कांग्रेस और एन सी पी के विधायकों को फिर होटल में रखा, उद्धव सभी दलों के विधायकों से मुलाकात करेंगे
November 25, 2019 • Dr. Surendra Sharma

मुंबई। महाराष्ट्र में शनिवार तड़के राष्ट्रपति शासन हटाने और देवेंद्र फडणवीस और राकांपा नेता अजित पवार को सीएम और डिप्टी सीएम की शपथ दिलवाने के राज्यपाल के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट अब सोमवार को निर्णय लेगा। सत्ता गठन के लिए कोशिशों में जुटी कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना ने टूट के डर से अपने विधायकों को अलग-अलग होटलों में रखा है और उनसे मोबाइल भी ले लिए गए हैं। शिवसेना विधायकों मुंबई के होटल द ललित, राकांपा के विधायकों को रेनेसां और कांग्रेस के विधायकों को जेडब्ल्यू मैरियट होटल में ठहराया गया है। 8 निर्दलीय विधायक गोवा के एक रिसॉर्ट में ठहरे हैं। इनमें से ज्यादातर वे हैं, जो शिवसेना को समर्थन देने का ऐलान कर चुके हैं। शिवसेना खेमाः होटल द ललित में उद्धव ठाकरे विधायकों से मिलने पहुंचे। उद्धव ने यह भी कहा है कि वे कांग्रेस विधायकों के साथ भी मुलाकात करेंगे। कांग्रेस-राकांपा खेमा: शरद पवार ने रेनेसां में पार्टी विधायकों से मुलाकात की। राकांपा विधायक नितिन पवार के लिए गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज की गई थी। नितिन ने कहा- मेरे परिजन परेशान न हों। मैं शरद पवार, अजित पवार और छगन भजबल के साथ हं। शनिवार से लापता बताए गए राकांपा विधायक माणिकराव भी रविवार को रेनेसां पहुंचे। जानकारी के मुताबिक, माणिकराव अजित के साथ राज्यपाल निवास गए थे। भाजपामुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पार्टी विधायकों से मिलने के लिए भाजपा कार्यालय पहुंचे। साथ में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद हैं।