ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
लखनऊ में भीड़ ने पुलिस पर फायरिंग की, इंडिगो को दिल्ली से 19 उड़ानें रद्द करनी पड़ी
December 20, 2019 • Dr. Surendra Sharma

 

एजेंसी

नई दिल्ली। नागरिकता कानून के विरोध में गुरुवार को वामदलों और मुस्लिम संगठनों ने देशभर में बंद बुलाया। 12 राज्यों में प्रदर्शन और हिंसा की घटनाएं हुईं। जिन राज्यों में प्रदर्शन हुए, उनमें 6 में भाजपा सत्ता में है। उत्तर प्रदेश के संभल में प्रदर्शनकारियों ने बस में आग लगा दी। लखनऊ में भीड़ ने पुलिस पर गोलियां चलाईं। दिल्ली-गुड़गांव एक्सप्रेस वे पर जाम लगने के कारण क्रू मेंबर्स फंस गए, जिसके चलते इंडिगो को दिल्ली से 19 उड़ानें रद्द करनी पड़ी। 16 फ्लाइट्स में देरी हुई। केंद्रीय गह मंत्रालय देशभर में नागरिकता कानून को लेकर जारी विरोध  के मामले में बैठक करेगा। वहीं, इसी मामले पर सोनिया गांधी के निवास पर कांग्रेस कोर कमेटी की बैठक जारी। वहीं, कोलकाता में हुई रैली में प.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- निष्पक्ष संगठन जैसे युनाइटेड नेशंस या राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को नागरिकता संशोधन कानून मामले पर जनमत संग्रह करना चाहिए, ताकि यह पता लग सके कि कितने लोग इसके समर्थन में हैं और कितने इसके विरोध में। दिल्ली में 19 मेट्रो स्टेशन बंद करना पड़े बिहार के पटना, दरभंगा समेत कुछ शहरों में माकपा कार्यकर्ताओं ने रेलवे ट्रैक जाम किया। दिल्ली में धारा 144 के बावजूद प्रदर्शन करने वाले कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित समेत कई लोग हिरासत में लिए गए। 19 मेट्रो स्टेशन बंद करने पड़े। बेंगलुरु में प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने इतिहासकार रामचंद्र गुहा को हिरासत में ले लिया। तेलंगाना के हैदराबाद में भी 50 लोग हिरासत में लिए गए।