ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
करौली हत्याकांड एवं नगर परिषद सभापति निलम्बन की जाँच हेतु गठित तीन सदस्य समिति ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां को सौंपी रिपोर्ट
December 12, 2019 • Dr. Surendra Sharma



दो ध्रुवों पर बंटी कांग्रेस सरकार से विकास एवं
गुड गवर्नेस की कल्पना नहीं कर सकते: राजेन्द्र राठौड़

जयपुर, 11 दिसम्बर। आज भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर संगठन संरचना को लेकर जिला चुनाव संरचना अधिकारियों की बैठक प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। इसमें भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, प्रदेश महामंत्री (संगठन) चन्द्रशेखर, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ एवं संगठन संरचना प्रभारी एवं प्रदेश उपाध्यक्ष राजेन्द्र गहलोत ने जिला चुनाव संरचना अधिकारियों से फीडबैक लिया। साथ ही बैठक में जिला चुनाव संरचना अधिकारियों को संगठन की मजबूती के लिए दिशा-निर्देश दिये।
भाजपा प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा ने बताया कि इस बैठक में आगामी पंचायत चुनावों की तैयारियों हेतु भी चर्चा हुई। पंचायत चुनाव की तैयारियों को लेकर पूर्व में पंचायत चुनाव सम्भाग प्रभारी एवं जिला प्रभारियों की घोषणा की जा चुकी है तथा पंचायत समिति प्रभारियों की घोषणा शीघ्र ही कर दी जायेगी। पंचायत चुनाव को लेकर पंचायत समितियों पर कई प्रकार के आयोजन संगठन व मोर्चों द्वारा किये जायेंगे।
प्रतिपक्ष उपनेता राजेन्द्र राठौड़ ने कहा कि दो धु्रवों पर बंटी प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मुखिया 365 दिन में लगभग 200 दिन दिल्ली दरबार की हाजरी में रहें और उनसे किसी प्रकार की विकास और गुड गवर्नेस की कल्पना नहीं की जा सकती है। राजस्थान का आम आदमी परेशान है, विकास का पहिया रूका हुआ है, सरकार आर्थिक आपातकाल की जकड़न में है। इस सरकार की एक साल की उपलब्धि सिर्फ भ्रष्टचार में पहले नम्बर पर, महिला उत्पीड़न एवं अत्याचार में तीसरे नम्बर पर, बाल तस्करी में चैथे स्थान पर यह नेशनल क्राईम ब्यूरो की रिपोर्ट है। हम कांग्रेस के 365 दिन पूरे होने पर 16 दिसम्बर को एक आरोप पत्र सरकार के खिलाफ जारी करेंगे और उस दिन हम जहां गांधी जी की प्रतिमा या डाॅ. भीमराव अम्बेड़कर की प्रतिमा के नीचे बैठकर जिला मुख्यालय पर सांकेतिक उपवास करेंगे और अगले दिन 17 दिसम्बर को सारे पंचायत समिति मुख्यालयों पर भाजपा के कार्यकर्ता आरोप पत्र के माध्यम से ज्ञापन देकर सरकार की 365 दिन की सारी कारगुजारी के बारे में जनता को बतायेंगे।
शर्मा ने बताया कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां के निर्देशानुसार दिनांक 06 दिसम्बर, 2019 को करौली में सरेआम सौरभ चतुर्वेदी की गोलीमार कर की गई हत्या एवं एक व्यक्ति के घायल किये जाने तथा राज्य सरकार द्वारा द्वेष भावना से करौली नगर परिषद के सभापति राजाराम गुर्जर के निलम्बन की तथ्यात्मक रिपोर्ट हेतु प्रदेश से जिस तीन सदस्यीय समिति का गठन (रामंगजमंडी विधायक एवं पूर्व मंत्री मदन दिलावर के नेतृत्व में फुलेरा विधायक निर्मल कुमावत एवं भाजपा प्रदेश मंत्री अरूण अग्रवाल) किया गया था, उस समिति ने आज भाजपा प्रदेशाध्यक्ष     डाॅ. सतीश पूनियां को जाँच की तथ्यात्मक रिपोर्ट सौंप दी है।
इस रिपोर्ट में बताया गया कि करौली नगर परिषद के सभापति राजाराम गुर्जर ने अपने कर्मचारी को रिश्वत लेने के लिए मना करते हुए कहा कि ऐसा करना ठीक नहीं है। इससे नाराज होकर कर्मचारी ने मंत्री से मिलकर थाने में सभापति के खिलाफ द्वेषतापूर्ण रिपोर्ट दर्ज करवायी और रिपोर्ट में लिखा की सभापति जी ने राजकार्य में बाधा डालते हुए मेरे साथ में बदतमीजी और मारपीट की। इसी रिपोर्ट को आधार मानकर द्वेषतपूर्ण एवं राजनीतिक षडयंत्र के चलते डीएलबी ने सभापति राजाराम गुर्जर को निलम्बित कर दिया।
साथ ही 05 दिसम्बर की रात्रि को करौली में ढ़ाबे (भोजनालय) पर भोजन करने के लिए आये सौरभ चतुर्वेदी की गोली मार कर उसकी हत्या कर दी गई। इसमें कारण था कि तीन-चार लोग शराब पीकर ढ़ाबे पर आये और उत्पात करने लगे, तब ढ़ाबे के संचालक द्वारा उनको डाटने पर वे चले गये और थोड़ी देर बाद में 5-7 असामाजिक तत्व हथियारों से लैस होकर आये और सौरभ चतुर्वेदी पर अंधाधुंध गोलियां चलाकर उसकी हत्या कर देते है, जिसमें ढ़ाबे के संचालक पिता-पुत्र नमोनारायण चतुर्वेदी और विष्णु चतुर्वेदी घायल हो जाते है, जिन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया। यह घटना अकारण ही हुई। जब समिति प्रशासन से मिलने पहुँची तो वहां से एस.पी., एडिश्नल एस.पी., डीवाई एस.पी., सी.आई, कलेक्टर, एस.डी.एम., जिला परिषद सी.ओ., नगर परिषद कमिश्नर आदि सभी गायब मिलें। समिति ने प्रदेश अध्यक्ष से कहा है कि इसकी निष्पक्ष जांच करा कर दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाये।