ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
कैसे जाने किसी स्‍त्री के गाल देखकर उसके बारे में--पंडित दयानंद शास्त्री
February 5, 2020 • Dr. Surendra Sharma


सामुद्रिक शास्‍त्र, भारतीय ज्योतिष का एक प्रमुख अंग है। इसके आधार पर विभिन्‍न अंगों की सरंचना को देख आप व्‍यक्ति के बारे में बता सकते हैं। जब कोई व्यक्ति मुस्कुराता है, तो चेहरे की प्रमुख मांसपेशियों के अंदर की ओर खिंचने के कारण डिंपल अपने आप गालों में बनता है। हालांकि, भौतिक विशेषता होने के साथ ही डिंपल्स पड़ने का एक ज्योतिषीय महत्व भी है।

उभरे हुये गोलाकृति गाल सौभाग्यवान के होते हैं, गुलाबी, नरम, गुदगुदे गाल भी अच्छे भाग्य के सूचक हैं। सिंह, हाथी के गाल जैसे वाले व्यक्ति भी धनवान तथा भाग्यवान होते हैं। 

भरे-भरे उठे हुये और पुष्ट गाल वाले ऐशो आराम का जीवन जीते हैं। 

पुरूष के गाल पर लाल रंग का तिल आनंदवर्धक होता है।

 पुरूष के गाल पर काले रंग का तिल शुभदायक नहीं होता है।

विष्णु पुराण के अनुसार, यह कहा जाता है कि जिन महिलाओं के गालों में डिंपल्स बनते हैं, वे सुखी और आनंदित विवाहित जीवन जीती हैं। 

जिन लोगों के गाल गुलाबी होते हैं वे प्रकृतिप्रेमी और धैर्यवान होते हैं. जीवन में हर काम सलीके से करना इन्हें पसंद होता है।

 ये जल्दबाजी में कोई फैसला नहीं लेते. अगर इन्हें कोई कार्य सौंपा जाए तो वे उसे जिम्मेदारी के साथ पूरा करते हैं. दूसरों की मदद करना इनका स्वभाव होता है।

 कई बार इनमें अहंकार की प्रवृत्ति भी पाई जाती है. जिसके कारण ये स्वयं को दूसरों से श्रेष्ठ समझने लगते हैं. जिन लोगों के गालों का रंग लाल या अधिक सुर्ख होता है वे अपनी बात मनवाने में यकीन करने वाले, जिद्दी और कुछ क्रोधी होते हैं. इन लोगों में धैर्य नहीं होता और वे किसी का अधिक इंतजार करना पसंद नहीं करते।

 हालांकि ये अपने काम में निपुण होते हैं लेकिन किसी के आदेशों के अनुसार चलना इनके लिए काफी मुश्किल होता है. गालों का रंग प्रायः व्यक्ति के वंश, देश, जलवायु और स्वास्थ्य पर निर्भर करता है।

ज्योतिष के अनुसार जिस जातक के गालों का रंग आंशिक सफेदी या पीलापन लिए होता है वे प्रायः उदास और अस्वस्थ रहते हैं. नए काम में उनकी रुचि कम होती है और वे जल्द निराश होते हैं।

 ऐसे लोग एकांतप्रेमी होते हैं और किसी योग्य व्यक्ति के मार्गदर्शन में ही सफल होते हैं. जिन लोगाें के गालों का रंग पीला होता है उनमें अधिकांश विशेषताएं सफेद गाल वाले व्यक्तियों जैसी ही होती हैं।

 इन्हें भविष्य को लेकर कई आशंकाएं होती हैं और इसके कारण ये जोखिम लेना पसंद नहीं करते. नए विचार पर काम करने से इन्हें हिचक होती है और ये किसी के नियंत्रण में रहकर काम करना ज्यादा सुरक्षित समझते हैं।

 पहचानने के तरीके यदि छोटी ऊँगली का बीच वाला भाग पहले और आखिरी भाग से बड़ा या लंबा होता है तो ऐसी लडकियाँ बहुत ही केयरिंग होती है ।

ऐसी लडकिया दूसरो की केयर करने वाली, दूसरो की चिंता रखने वाली और दुसरो के बारे में अधिक सोचने वाली होती है. ऐसी लडकिया दुसरो के बारें में अपने से पहले सोचती है, लेकिन ऐसी लडकियाँ बहुत कम मिलती है।

 अगर छोटी ऊँगली का पहला यानी सबसे ऊपर का भाग सबसे लंबा होता है तो ऐसे लडकियों के तरफ लोग ज्यादा आकर्षित होते है, इनकी बात करने के तरीके से लोग प्रभावित हो सकते है ये लडकिया दूसरों का आकर्षण पाने वाली होती है और इनमें दूसरों को अच्छे से और गहराई से समझने की क्षमता होती है।

अगर छोटी ऊँगली का सबसे नीचे वाला भाग सबसे छोटा है तो ऐसी लडकियाँ दुसरे लोगो के प्रति लॉयल रहती है ऐसी लडकियों पर आप आसानी सें भरोसा कर सकतें है. इस प्रकार की लडकियों पर आप आसानी से भरोसा कर सकते है।

ऐसी महिलाएं अच्छी पत्नियां भी साबित होती हैं। ऐसी स्त्रियों को उनके पति अधिक प्यार करते हैं और सम्मान देते हैं।
✍🏻✍🏻🌹🌹👉🏻👉🏻
मजबूत होता है शुक्र ग्रह--

ऐसी महिलाएं काफी जेनुइन और डाउन टू अर्थ होती हैं। उस मंद सौंदर्य के अलावा यह भी एक कारण है कि ऐसी महिलाओं को लोग ज्यादा पसंद करते हैं। बात अगर ज्योतिष की करें, तो कहा जाता है कि जिन महिलाओं के गाल में डिंपल पड़ता है, उनका शुक्र ग्रह काफी मजबूत होता है। शुक्र को भोग-विलास, पति-पत्नी के प्रेम का कारक ग्रह माना जाता है, लिहाजा उन्हें सभी भौतिक सुख और साथी का प्यार मिलता है।
✍🏻✍🏻🌷🌷👉🏻👉🏻
जिंदगी का मजा लेती हैं--

जिन महिलाओं के डिंपल्स बनते हैं, वे विनोदप्रिय और लापरवाह होती हैं। ऐसी महिलाएं पूरी तरह से जिंदगी को जीती हैं और जिंदगी का मजा लेती हैं। गालों में डिंपल्स होने का अर्थ है कि ऐसी महिला की जिंदगी में कभी बुरा दिन नहीं आता है।

यदि आपके माता-पिता में से किसी एक के गाल में डिंपल्स पड़ते हैं, तो 25 से 50 फीसद उम्मीद है कि आपके गालों में भी डिंपल्स पड़ेंगे। वहीं, यदि आपके माता-पिता दोनों के डिंपल्स होते हैं, तो आपके भी डिंपल्स बनने की संभावना 50 से 100 फीसद तक होती है क्योंकि गाल के डिंप्लस माता-पिता के जीन के कारण होते हैं।

किसी स्‍त्री के गाल देखकर उसके बारे में कैसे आंकलन किया जा सकता है।
✍🏻✍🏻🌷🌷👉🏻👉🏻
1- जिस स्त्री के हॅसते समय अधिक फूल जायें, उस स्त्री को 35 वें वर्ष के आस-पास विधवा होने की आशंका रहती है। ऐसी स्त्रियों का जीवन हमेशा मेहनत करने में ही व्यतीत होता है। 50 वर्ष की आयु के पश्चात ही इन्हे सुख की प्राप्ति होती है।

2- जिस स्त्री के हॅसते समय गालों में गडढे या डिम्पल पड़ते हो, वह स्त्री तेज-तर्रार, विवेकवान, जल्दी-जल्दी बालने वाली तथा अपनी बुद्धि व क्रिया-कलापों से सबके ह्रदय में जल्द ही अपना स्थान बना लेती है।

3- जिस स्त्री का दाहिना गाल छोटा हो, उस स्त्री के पति की मृत्यु पहले होती है। इनमे कोमलता के साथ-साथ साहस भी होता है।

4-यदि किसी स्त्री का बायां बाल छोटा हो, उस स्त्री की मृत्यु अपने पति से पहले होती है। ऐसी स्त्रियाॅ बहुत शालीन स्वभाव की और काफी मिलनसार होती है।

5- जिस स्त्री के गाल आवश्यकता से अधिक नीचे लटके हुये हो, वह स्त्री अपने सास, श्वसुर व देवर के लिए अशुभ मानी जाती है। इनकी खाद्य पदार्थो के प्रति विशेष रूचि हो ती है।

6- जिस स्त्री के बायें गाल पर काला तिल हो, वह स्त्री बुद्धिमान, शिक्षा में विशेष रूचि रखने वाली एंव सौन्दर्यता के प्रति इनका विशेष लगाव रहता है।

7- जिस स्त्री के दाहिने गाल पा काला तिल हो, वह स्त्री धनवान, वैभवशाली, एंव चरित्रवान होती है। ऐसी स्त्रियां अपनी आवश्यकताओं को नियन्त्रण में रखने वाली होती है। इन्हे भौतिक जगत की तमाम वस्तुओं का सुख भी प्राप्त होता है।