ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
जेकेके में डॉ. मधु भट्ट तैलंग ने ध्रुवपद गायन में पेश की स्वामी विवेकानंद एवं मीरां बाई की रचनाएं 
December 19, 2019 • Dr. Surendra Sharma

जयपुर, 18 दिसंबर। जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में जयपुर के संगीतप्रेमियों के लिए आयोजित 'विविधा-2' फेस्टिवल के तीसरे दिन बुधवार को जयपुर की प्रथम महिला ध्रुवपद गायिका डॉ. मधु भट्ट तैलंग की प्रस्तुति ने सभी को मन्त्रमुग्ध कर दिया। डॉ. मधु भट्ट ने स्वरचित रागों के अतिरिक्त स्वामी विवेकानंद एवं मीरां की रचनाओं पर आधारित ध्रुवपद प्रस्तुति दे कर कार्यक्रम को यादगार बना दिया। फनकार ने कार्यक्रम के दौरान 12 रागों पर आधारित रागमाला पेश कर श्रोताओं से खूब तालियां बटोरी। 

डॉ. मधु भट्ट ने तोड़ी आधारित राग मुलतानी में गोस्वामी वल्लभाचार्य की पुष्टिमार्गीय गुरु वन्दना से गायन प्रारम्भ करके कण, श्रुति, मींड एवं गमक पेश करते हुए आलापचारी के विविध चरण पेश किए। साथ ही, उन्होंने स्वामी विवेकानंद द्वारा रचित दुर्लभ ध्रुवपद रचना 'खंडन भव बंधन' की ताल चौताल में राग मुलतानी में क्लासिक प्रस्तुति दी। प्रस्तुति में दुगुन से दसगुन तक की लयकारी, तिहाइयां, चक्करदार का उपयोग संगीतप्रेमियों के लिए सुनने योग्य था। 

कार्यक्रम के दौरान डॉ. मधु भट्ट ने राग मुलतानी एवं ताल सूलताल में स्वरचित 'जोगी महादेव' की लयात्मकता के साथ प्रस्तुति दी।  इसी कड़ी में उन्होंने स्वरचित राग 'मधुर्गंधी' ताल धमार में 'बाजे डमरू डम डम डम' और एक अन्य स्वरचित राग 'धन्य भीम माधव' में मीरां का भजन 'फागुन के दिन चार होरी खेल मना रे' की शानदार प्रस्तुति दी। 'वन्दे मातरम्' गीत को ध्रुवपद प्रस्तुति के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

कार्यक्रम में संगत करने वाले कलाकारों में पूणे के पं. उद्धव माणिक मुंडे, सारंगी पर दिल्ली के पं. भारतभूषण गोस्वामी, तानपुरे पर कौमुदी नयाल, पूनम गोस्वामी, डॉ. श्यामसुन्दर शर्मा एवं डॉ. ओमप्रकाश नायर शामिल थे। 

गुरुवार 19 दिसंबर को दिल्ली की प्रेरणा श्रीमाली पेश करेंगी कथक नृत्य प्रस्तुति 'सप्तावर्त'
फेस्टिवल की अगली कड़ी में गुरुवार, 19 दिसंबर को दिल्ली की प्रेरणा श्रीमाली एंड ग्रुप की ओर से कथक नृत्य प्रस्तुति 'सप्तावर्त' दी जाएगी।

उल्लेखनीय है कि 20 दिसंबर तक आयोजित होने वाले इस पांच दिवसीय फेस्टिवल में कलाप्रेमियों को कई विभिन्न प्रस्तुतियां खूब रिझा रही हैं। फेस्टिवल के सभी कार्यक्रम सायं 6.30 बजे मध्यवर्ती में हो रहें हैं। इस फेस्टिवल में दर्शकों के लिए प्रवेश निशुल्क रहेगा।