ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
जीवन में उजियारा बिना शिक्षा संभव नहीं है: गांव देवती के सीनियर उमावि में भामाशाह सम्मान व पूर्व छात्र सम्मेलन 
February 24, 2020 • Dr. Surendra Sharma


राजगढ़। 
शिक्षा मेें ही तरक्की की राह छिपी है। जीवन में उजियारा बिना शिक्षा संभव नहीं है। यह बात शनिवार को अलवर जिले के देवती गांव के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में आयोजित वार्षिकोत्सव, भामाशाह सम्मान व पूर्व छात्र सम्मेलन में आए अतिथि वक्ताओं ने कही। इस मौके पर विद्यालय की प्रतिभावान छात्रा खेलंता देवी सहित अन्य विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।

विद्यालय के पूर्व छात्र रहे आयकर निरीक्षक सुनील मीणा ने इस मौके पर छात्र जीवन के अनुभव व शिक्षा प्राप्ति के दौरान अपने संघर्ष के संस्मरण सुनाते हुए छात्रों को मन से पढ़कर जीवन में बड़ा लक्ष्य तय करने को प्रेरित किया। करीब 500 विद्यार्थी संख्या वाले विद्यालय प्रांगण में विद्यार्थियों ने रंगारंग प्रस्तुति दी और विदाई गीत से अपने सहपाठियों को विदाई दिए। प्राचार्य मुरारीलाल ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और विद्यालय की समस्याओं को अतिथियों व अधिकारियों से साझा किया। व्याख्याता कुंजेश श्रोत्रिय ने स्वरचित कविता के माध्यम से अतिथियों का स्वागत किया और विद्यार्थियों को आगे बढऩे के लिए प्रेरित किया। 


भामाशाहोंं का किया सम्मान
कार्यक्रम के दौरान अध्यापिका सुमित्रा पंडित को अपनी शादी की सालगिरह पर विद्यार्थियों को शिक्षण सामग्री प्रदान करने के लिए सम्मानित किया गया। इस मौके पर अलवर जिला मुख्यालय से आए समसा के सहायक निदेशक के.एल. धावरिया, पीओ पी.डी. उमरावल, पत्रकार व पूर्व छात्र हरिओम शर्मा, महेश मिश्रा, रमेश शर्मा, भामाशाह रामकिशन आदुका, बैंक प्रबंधक बनवारी लाल मीणा ने भी विचार व्यक्त किए। गौरतलब है कि बनवारीलाल मीणा की ओर से विद्यालय के समस्त छात्राओं के लिए इस सत्र में स्वेटर वितरण किया गया और रामकिशन आदुका की ओर से भी विद्यार्थियों के लिए शैक्षणिक सामग्री उपलब्ध कराई गई। आगामी महिनों में सेवानिवृत होने वाले व्याख्याता कुंजेश क्षौत्रिय ने भी विद्यालय विकास कोष के लिए पांच हजार रुपए सहयोग राशि प्रदान की। कार्यक्रम के दौरान अतिथियों का साफा पहनाकर व माल्यार्पण से स्वागत किया गया। कार्यक्रम का संचालन रामनिवास मीणा ने किया। इस मौके पर व्याख्याता संध्या जोशी व उनकी टीम के निर्देशन में सांस्कृतिक आयोजन में छात्राओं ने देश भक्ति व स्वागत गीत गाकर अतिथियों का स्वागत किया।