ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
इस शुक्रवार (10 जनवरी 2020) को साल का पहला ग्रहण होगा। इस ग्रहण को यूरोप,एशिया, अफ्रीका  और ऑस्ट्रेलिया में देखा जा सकेगा।
January 9, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 ग्रहण काल की शुरुआत 10 जनवरी की रात 10 बजकर 37 मिनट से हो जायेगी और इसका मोक्ष या अंत 02:42( सुबह) पर 11 जनवरी को होगा। इस ग्रहण की कुल अवधि करीब 4 घंटे की होगी।     
🙏🏻🙏🏻🌷🌷✍🏻✍🏻🌹🌹👉🏻👉🏻
कुंडली अनुसार करें चन्द्र ग्रहण के उपाय--
--------------------------------------
अब ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री जी जानिए की यदि किसी जातक की कुंडली मे चन्द्र ग्रहण है तो क्या उपाय करें?? 

किसी भी जातक की कुडंली में ग्रहण दो प्रकार से होता है एक चन्द्र के साथ राहु से बनता है तो दूसरा चन्द्र के साथ केतु ग्रह से ।

 अब आपको देखना है कि कौनसा चन्द्र ग्रहण है ।

यदि राहु वाला है तो आप एक कम्बल या नीले वस्त्र में काले तिल,साबुतचावल ,मिश्री ,श्वेत चन्दन , गोमेद नग,ओर मोती इन सात चीजो को अलग अलग अपनी सामर्थ्य अनुसार डाल कर अपने सिर से 7 बार उल्टा घुमाकर दान करे ।


और यदि केतु के साथ ग्रहण योग है तो एक कम्बल में कालीमिर्च, तिल, कपूर, चावल ,लहसुनिया नग ओर स्फ़टिक माला  ये डाल कर( अपने सामर्थ्य अनुसार) अपने सिर से उलटा घुमाकर दान करे।
👉🏻👉🏻
नोट 1- ये दान की वस्तु ग्रहण वाले समय या सूतक काल मे  घुमाकर करे या उस समय घुमाकर रख लेवे सुबह दान कर देवे ।
2- ये दान सामग्री मंदिर में ना चढ़ाकर  शनी मंदिर के पुजारी को दे । 
3- ये उपाय सभी कर सकते है यदि विशेष उपाय करने हो तो आपकी कुंडली के ग्रहण योग किस राशि मे, कौनसे नक्षत्र में, ओर किस भाव मे कितनी डिग्री के साथ बन रहा है देखना आवश्यक होता है ।