हम सब एक होंगे, तो निश्चित ही विजय होगी-इन्दौरिया
March 23, 2020 • Dr. Surendra Sharma

देश में फैल रही कोरोना वायरस जैसी गम्भीर महामारी को रोकने हेतु केंद्र तथा राज्य सरकारें अपने अपने स्तर पर सफलतम प्रयास कर रही हैं. 22 मार्च को एक दिन का जनता कर्फ्यू सफल रहा और प्रदेश में 31 मार्च तक लॉक डाउन करने वाला राजस्थान पहला राज्य बना.                   सामाजिक कार्यकर्ता श्री राम इंदौरिया ने कहा कि कोरोना को लेकर सरकारी दिशा निर्देश कहते हैं कि 65 साल से अधिक उम्र वाले लोग घरों में रहें तो संसद क्यों चल रही है ? राज्यसभा में करीब 44 प्रतिशत और लोकसभा में 22 प्रतिशत सांसदों की उम्र 65 साल से अधिक है तो क्या सरकारी दिशा निर्देशों को नजर अंदाज किया जायेगा ?
राजस्थान में जब तय है कि कांग्रेस की 2 और भाजपा की 1 सीट राज्यसभा में जानी है तो ऐसे माहौल में चुनाव में निर्विरोध 2+1 का गणित तय करके, ये काम क्यों नही किया जा रहा. 26 मार्च को राज्यसभा का चुनाव होना क्या जरुरी है ? कृपया सभी नागरिक गण आपसी मतभेद भुलाकर और राजनीतिक परिवेश से हटकर देश हित में अपनी भागीदारी निभायें और ज्यादा से ज्यादा समय घर में रहें. धारा 144 का पालन करें और कहीं भी 5 से ज्यादा लोग एक जगह एकत्रित ना हों. जहां कहीं भी झुग्गी-झौपडी वाले, निर्धन, असहाय और मजदूर तबके के लोग दिखें, उनकी हर सम्भव मदद करें और कोरोना के प्रति उन्हें भी जागरुक करें. कोरोना को खत्म करने का सिर्फ बचाव ही उपचार है. अगर हम सब एक होंगे तो निश्चित ही हमारी विजय होगी.
श्रीराम इन्दौरिया 
सामाजिक कार्यकर्ता