ग्राम पंचायत की लापरवाही से ग्रामीणों में रोष
May 7, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 


ग्राम पंचायत की लापरवाही से ग्रामीणों में रोष

ग्राम पंचायत में कोर कमेटी का किया घेराव

जवाली/पाली - 7 मई । कोरोना महामारी से पूरा देश जूझ रहा हैं ,जिले की जवाली ग्राम पंचायत में होम क्वॉरेंटाइन की पालना नही करने वालो के ख़िलाफ़ ग्रामीण युवाओं का गुस्सा फूट पड़ा । युवाओं ने ग्राम पंचायत की कोविड 19 कमेटी के अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह राजपुरोहित व ग्राम सचिव  सत्यनारायण सिंह का घेराव किया।

जवाली गांव में पिछले दिनों लगभग 120 व्यक्ति बाहर से आ चुके हैं और भी सैंकड़ो प्रवासी आने की संभावना हैं, जो व्यक्ति आ चुके है उनमें से अधिकांश लोग व उनके परिवार वाले होम क्वॉरेंटाइन की पालना नही कर रहे है जिसके चलते ग्रामीणों में असुरक्षा माहौल बना हुआ है जिसके चलते आज युवाओं ने अपना मांग पत्र ग्राम पंचायत की कमेटी के समक्ष रखा हैं और चेतावनी दी हैं कि यदि बाहर से आने वाले व्यक्ति के साथ उसके परिवार को भी होम क्वॉरेंटाइन किया जाए, गांव के बाहर से सब्जी फल अन्य सामग्री फेरी वालो पर गांव में आने और तुरंत प्रतिबंध लगाया जाए, समस्त वार्ड पंचों को सहयोग के लिए चार चार व्यक्तियों को अपने वार्ड में होम क्वॉरेंटाइन हुए लोगो की देख रेख करने की व्यवस्था की जाए, गांव के सभी दुकानदारों को नोटिस जारी कर होम क्वॉरेंटाइन हुए लोगो को सामान नही देने की मांग की है ऐसे लोगो के लिए होम डिलीवरी की व्यवस्था की जाए, बाहर से आने वाले व्यक्तियों की सूची प्रतिदिन वार्डपंच के जरिये सार्वजनिक करने की मांग की हैं ।

पूर्व छात्रसंघ मोहित जैन ने बताया कि सभी युवाओं ने सोशियल डिस्टनसिंग का पालन करते हुए कोविड 19 कमेटी को कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए सभी युवा ग्राम पंचायत के साथ है और पूरा सहयोग करेंगे।

ग्राम सचिव की बेतूकी बात
युवाओं ने ग्राम सचिव से होम क्वॉरेंटाइन में रहने वाले लोग जो बाहर घूम रहे है उनकी शिकायत की तो ग्राम सचिव सत्यनारायण सिंह ने कहा कि हम कुछ नही कर सकते और न किसी से दुश्मनी ले सकते है इस पर युवा आक्रोशित हो गए और ग्राम सचिव को अपने साथ गांव में ले गए जो लोग होम क्वॉरेंटाइन की पालना नही कर रहे थे, ग्राम सचिव अपने ऊपर दबाव बनाता देख युवाओं के साथ चलना पड़ा।


घरों पर लगाए होम क्वॉरेंटाइन नोटिस फ़टे मिले

युवाओं के साथ जब ग्राम सचिव होम क्वॉरेंटाइन लोगो को समझाने गए तो कई घरों के बाहर होम क्वॉरेंटाइन नोटिस फ़टे मिले, प्रशासन के चूक के चलते कोई बड़ा हादसा नही हो इसलिए युवाओं ने चेतावनी दी हैं कि जो व्यक्ति होम क्वॉरेंटाइन हैं और बाहर घूम रहा हैं तो इसकी सूचना ग्राम प्रशासन द्वारा तुरंत जिला प्रशासन को दी जाए, यदि ऐसा नही हुआ तो मज़बूरन जिला कलेक्टर को ग्राम प्रशासन की शिकायत करनी पड़ेगी जिसके लिए ग्राम पंचायत सचिव व कोविड कमेटी के अधिकारी जिम्मेदारी होगी।

पूर्व छात्रसंघ मोहित जैन ने बताया कि सभी युवाओं ने सोशियल डिस्टनसिंग का पालन करते हुए कोविड 19 कमेटी को कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए सभी युवा ग्राम पंचायत के साथ है और पूरा सहयोग करेंगे।

ग्राम सचिव की बेतूकी बात
युवाओं ने ग्राम सचिव से होम क्वॉरेंटाइन में रहने वाले लोग जो बाहर घूम रहे है उनकी शिकायत की तो ग्राम सचिव सत्यनारायण सिंह ने कहा कि हम कुछ नही कर सकते और न किसी से दुश्मनी ले सकते है इस पर युवा आक्रोशित हो गए और ग्राम सचिव को अपने साथ गांव में ले गए जो लोग होम क्वॉरेंटाइन की पालना नही कर रहे थे, ग्राम सचिव अपने ऊपर दबाव बनाता देख युवाओं के साथ चलना पड़ा।


घरों पर लगाए होम क्वॉरेंटाइन नोटिस फ़टे मिले

युवाओं के साथ जब ग्राम सचिव होम क्वॉरेंटाइन लोगो को समझाने गए तो कई घरों के बाहर होम क्वॉरेंटाइन नोटिस फ़टे मिले, प्रशासन के चूक के चलते कोई बड़ा हादसा नही हो इसलिए युवाओं ने चेतावनी दी हैं कि जो व्यक्ति होम क्वॉरेंटाइन हैं और बाहर घूम रहा हैं तो इसकी सूचना ग्राम प्रशासन द्वारा तुरंत जिला प्रशासन को दी जाए, यदि ऐसा नही हुआ तो मज़बूरन जिला कलेक्टर को ग्राम प्रशासन की शिकायत करनी पड़ेगी जिसके लिए ग्राम पंचायत सचिव व कोविड कमेटी के अधिकारी जिम्मेदारी होगी।

इस अवसर पर यूनिवर्सिटी पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित जैन, लोकेंद्र सिंह सोलंकी, मोहित सिंह मेड़तिया, भरत वन गोस्वामी, हनवंत सिंह राठौड़, चेतन राजपुरोहित, मुकेश माली, नारायण सिंह कुम्पावत, ओमकार सिंह मेड़तिया, महेंद्र चौधरी, मुकेश नाथ ,संजय गांधी, गजेंद्र सिंह, हरपाल सिंह, पूरण नाथ , विपुल जोशी , दिनेश घांची , पराग देवासी , विनोद सैन इत्यादि मौजूद रहे।