ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी ससंघ का जयकारों के साथ हुआ भव्य मंगल
February 17, 2020 • Dr. Surendra Sharma

-- 22 फरवरी होगा तीन दिवसीय रजत दीक्षा जयंती महोत्सव का शुभारंभ

जयपुर। शहर के अजमेर रोड़ स्थित बड़ के बालाजी सुपार्श्व गार्डन सिटी के चन्द्रप्रभ दिगम्बर जैन मंदिर में रविवार को गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी ससंघ का भव्य एवं अलौकिक मंगल प्रवेश सायं 5.30 बजे हुआ। इससे पूर्व गणिनी आर्यिका माताजी ने दोपहर 12.30 बजे वरुण पथ दिगम्बर जैन मंदिर मानसरोवर से विहार यात्रा प्रारम्भ की और इंजीनियर्स कॉलोनी शांतिनाथ दिगम्बर जैन चैत्यालय, कमला नेहरू दिगम्बर जैन मंदिर के दर्शन करते हुए राणा फार्म हाउस, महापुरा में अल्प विश्राम कर बड के बालाजी हनुमान मंदिर मोड़ पर सकल दिगम्बर जैन समाज, रजत दीक्षा जयंती महोत्सव समिति, बड़ के बालाजी जैन समाज ओर चूड़ीवाल परिवार द्वारा आर्यिका संघ की बेंड-बाजों और जयकारों के साथ मंगल अगवानी की। 

महामंत्री अशोक जैन नेता ने बताया कि बड़ के बालाजी से मन्दिर जी प्रांगण तक भव्य शोभायात्रा के साथ आर्यिका संघ का मंगल प्रवेश सम्पन्न करवाया गया। इस दौरान जुलूस में भव्य लवाजमा, एक जयपुर के विख्यात बेंड सहित एक जैन समाज का महिला बेंड ने अपने वादकों और मधुर संगीत के साथ आर्यिका संघ की अगवानी की। इस दौरान समाज सेवी श्रीपाल भागचंद चूड़ीवाल, गणेश राणा, धर्मेंद्र पाटनी, महोत्सव अध्यक्ष सुभाष पाटनी, कार्याध्यक्ष हेमन्त सौगानी, मंत्री जितेंद्र मोहन जैन, कोषाध्यक्ष राजकुमार कोठयारी, महोत्सव सोधर्म इंद्र नरेंद्र पाटनी, अनिल जैन धुंवा वाले, अभिषेक जैन बिट्टू, प्रचार संयोजक विनोद जैन कोटखावदा एवं नरेश कासलीवाल, रक्षित जैन, एकेन्द्र जैन, ऋषभ जैन, कुलदीप छाबड़ा, पराग रारा, सुनील गंगवाल, मनोज जैन, जितेंद्र गंगवाल, राजीव जैन लाखना, एमपी जैन सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालुगण सम्मिलित हुए और आर्यिका संघ की पुष्प एवं रजत वर्ष्टि सहित नाचते-गाते मंगल अगवानी की।

22 फरवरी से तीन दिवसीय महोत्सव, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी होंगे शामिल

अध्यक्ष सुभाष पाटनी ने बताया कि शनिवार, 22 फरवरी से गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी का 25 वां रजत दीक्षा जयंती महोत्सव का समापन पर्व का तीन दिवसीय महाआयोजन का शुभारंभ किया जाएगा। इस दौरान शनिवार को विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा सांस्कृतिक आयोजन होंगे, दूसरे दिन रविवार 23 फरवरी को महोत्सव का मुख्य आयोजन 2500 से अधिक जोड़ो द्वारा जिन सहस्त्रनाम महामंडल विधान पूजन एवं होम का आयोजन होगा। इस आयोजन में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित राज्य के विभिन्न मंत्री, जनप्रतिनिधि, देशभर के गणमान्य श्रेष्ठिगण, सकल दिगम्बर जैन समाज जयपुर, चाकसू, किशनगढ़, अजमेर, टोंक, देवली, कोटा, दूदू, भीलवाड़ा, अजमेर, भोपाल, दिल्ली, आगरा आदि स्थानों से हजारों की संख्या में श्रद्धालुगण सम्मिलित होंगे। सोमवार 24 फरवरी को आर्यिका विज्ञाश्री माताजी के मंगल आशीर्वचन के साथ महोत्सव का समापन होगा। इससे पूर्व चित्र अनावरण, दीप प्रवज्जलन, शास्त्र व वस्त्र भेंट, पाद प्रक्षालन, विद्वानों द्वारा विनयांजलि सहित विभिन्न कॉलोनी के अध्यक्षो द्वारा विनयांजलि अर्पित की जाएगी, जिसके बाद पिच्छिका का परिवर्तन होगा और अंत मे मंगल प्रवचन के साथ महोत्सव का समापन होगा, महोत्सव के दौरान समाज के विभिन्न गणमान्य लोगों, श्रद्धालुओ और सामाजिक कार्यकर्ताओं का सम्मान समारोह भी आयोजित होगा।