ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी ससंघ का भव्यातिभव्य मंगल प्रवेश 16 को बड के बालाजी में
February 15, 2020 • Dr. Surendra Sharma

शनिवार 22 फरवरी से होगा त्रि-दिवसीय राष्ट्रीय महामहोत्सव का शुभारम्भ, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित अनेकों गणमान्य होंगे शामिल

जयपुर. छोटी काशी के नाम से विख्यात धर्मनगरी जयपुर शहर एक बार फिर धर्म की ज्ञान गंगा का रसपान करने का शुभावसर प्राप्त कर रहा है इस बार अवसर है गणाचार्य विराग सागर महाराज की शिष्या गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी के 25 वें रजत दीक्षा जयन्ती समारोह के समापन महामहोत्सव का, गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी का पिछले वर्ष अतिशय क्षेत्र बाड़ा पदमपुरा में महोत्सव के तहत 25 वें रजत दीक्षा जयंती वर्ष का शुभारम्भ किया गया था उस समय करीबन 20 हजार से अधिक इस महोत्सव के साक्षी बने थे और धर्म का पुण्यार्जन प्राप्त किया था. इस समापन सत्र का तीन दिवसीय आयोजन अजमेर रोड स्थित बड के बालाजी के चन्द्रपुरी दिगम्बर जैन मंदिर में आर्यिका संघ सानिध्य में राष्ट्रीय स्तर पर शनिवार 22 फरवरी से आयोजित किया जा रह है. इस आयोजन में राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित देशभर से अनेकों गणमान्य लोग शामिल हो रहे है. इस महोत्सव का ध्वजारोहण गुवाहाटी के विख्यात व्यवसायी श्रीपाल भागचंद चुडीवाल परिवार द्वारा किया जायेगा और लगभग 20 हजार से अधिक श्रद्धालु इस महोत्सव में सम्मिलित होंगे.

आर्यिका संघ का रविवार 16 फरवरी को होगा भव्य मंगल प्रवेश

महोत्सव समिति अध्यक्ष सुभाष पाटनी ने बताया की गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी इस महोत्सव में अपना सानिध्य प्रदान करने के लिए मानसरोवर के वरुण पथ दिगम्बर जैन मंदिर से विहार कर रविवार 16 फरवरी को सायं 4 बजे बड के बालाजी हनुमान मंदिर के पास पदार्पण करेगी जहाँ पर महोत्सव समिति और चन्द्रपुरी दिगम्बर जैन मंदिर समिति सहित सकल दिगम्बर जैन समाज के पदाधिकारी और श्रद्धालुगन बेंड – बाजों और जयकारों के साथ भव्य मंगल अगवानी करेगा, जिसके बाद हनुमान मंदिर से दिगम्बर जैन मंदिर तक भव्य शोभायात्रा, गीत – संगीत, जयकारो की दिव्य घोष के साथ विभिन्न बेंड वादकों की भक्तिमय ध्वनी के साथ आर्यिका संघ का मंगल प्रवेश मंदिर प्रांगण पर संपन्न करवया जायेगा.

रविवार 23 फरवरी को होगा 2500 जोड़ो के साथ “ जिन सहस्त्रनाम महामंडल विधान पूजन “

महोत्सव समिति महामंत्री अशोक जैन नेता ने बताया की रविवार 23 फरवरी को महोत्सव के दुसरे दिन मुख्य आयोजन संपन्न होगा, इसी दिन ध्वजारोहण होगा साथ ही 2500 से अधिक जोड़ो के साथ “ जिन सहस्त्रनाम महामंडल विधान पूजन “ का भव्य आयोजन होगा. इसी आयोजन के दोरान राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत महोत्सव में सम्मिलित होगे साथ ही राज्य सरकार के अन्य मंत्रिगण, देशभर के गणमान्य श्रेष्ठी और जयपुर जैन समाज के श्रेष्ठिगानो सहित करीबन 20 हजार से अधिक श्रद्धालु शामिल होकर महोत्सव का साक्षी बनेगा. इस महोत्सव की शुरुवात शनिवार 22 फरवरी को सांस्क्रतिक आयोजनों के साथ प्रारम्भ होगी और सोमवार 24 फरवरी को गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी की दिव्य ध्वनी के साथ संपन्न होगी, इस त्रि – दिवसीय महामंगल आयोजन के दोरान विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे.