ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
एसपीजी सुरक्षाः शाह ने कहा... हमने गांधी परिवार को ध्यान में रखकर बदलाव नहीं किया, पर पहले एक परिवार के लिए ही संशोधन हुए एसपीजी संशोधन बिल
December 5, 2019 • Dr. Surendra Sharma

नई दिल्ली। गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को राज्यसभा में एसपीजी संशोधन बिल पर बयान दिया। शाह ने कहा कि इस बिल में हमने पांचवां संशोधन किया है और यह परिवर्तन गांधी परिवार को ध्यान में रखते हुए नहीं किए गए। हां, इससे पहले जो 4 संशोधन किए गए थे...वह बेशक एक परिवार को ध्यान में रखकर ही किए गए थे। केंद्र सरकार ने पिछले महीने गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा वापस लेने का फैसला किया था। प्रियंका गांधी वाड्रा की सुरक्षा व्यवस्था सीआरपीएफ को सौंपी गई है। एसपीजी सुरक्षा को स्टेटस सिंबल नहीं बनाया जा सकताः शाह ने कहा- सुरक्षा को स्टेटस सिंबल नहीं बनाया जा सकता है। केवल एसपीजी की ही मांग क्यों? एसपीजी सुरक्षा घेरा केवल ने नहीं की केवल राष्ट के मुखिया के लिए है, हम इसे हर किसी को नहीं दे सकते हैं। हम किसी एक परिवार के खिलाफ नहीं है, लेकिन हम वंशवाद की राजनीति के खिलाफ हैं। इससे पहले लोकसभा में बिल पेश करने पर शाह ने कहा था- बिल को पेश करने का मकसद इसे बेहतर करना है। एसपीजी सुरक्षा कवर केवल प्रधानमंत्री और उनके साथ प्रधानमंत्री आवास में आधिकारिक तौर पर रह रहे परिजन को ही मिलेगा। इसके अलावा एसपीजी सुरक्षा पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिजन को दी जाएगी, जो आधिकारिक तौर पर सरकार द्वारा अलॉट किए गए आवास में रह रहे हैं।