ईरान से 44 भारतीयों को मुंबई लाया गया, देश में कोरोनावायरस के 81 मामले 11 राज्यों में स्कूल-कॉलेज बंद
March 14, 2020 • Dr. Surendra Sharma

नई दिल्ली। देश में कोरोनावायरस के मामलों की संख्या गुरुवार को 81 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इसमें भारत के 64, इटली के 16 और कनाडा का एक व्यक्ति शामिल है। संक्रमण की आशंका के मद्देनजर 11 राज्यों में स्कूल-कॉलेज बंद करने का फैसला लिया गया है। कई राज्यों में सार्वजनिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी गई है। दिल्ली और हरियाणा ने कोरोनावायरस को महामारी और ओडिशा ने आपदा घोषित किया है। दिल्ली में स्कूल-कॉलेज और सिनेमा हॉल 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा दिल्ली सरकार ने कहा कि अगर कोई संक्रमित या संदिग्ध इलाज से इनकार करता है तो उस पर एक्शन लिया जाएगा। कई राज्यों में खेलों को लेकर भी एडवायजरी जारी की गई है। इस बीच, कोरोनावायरस से बुरी तरह प्रभावित ईरान से 44 भारतीयों को लेकर एयर इंडिया का विमान शुक्रवार को मुंबई पहुंचा। इन सभी लोगों को आइसोलेशन में रखा जाएगाईरान के अलग-अलग प्रांतों में 6 हजार से ज्यादा नागरिक फंसे हुए हैं। सरकार इन्हें वापस लाने का  प्रयास कर रही है। इटली में फंसे छात्रों इटली में फंसे छात्रों लाने जाएगा एयर इंडिया का विमानः एयर इंडिया ने शुक्रवार को इटली, फांस, जर्मनी, स्पेन, दक्षिण कोरिया और श्रीलंका की उड़ानें 30 अप्रैल तक रद्द करने का फैसला लिया है। हालांकि, ईरान में फंसे भारतीयों को लाने के लिए विमान भेजा जाएगा। नागरिक उड्?डयन मंत्रालय की संयुक्त सचिव रुबिना अली ने कहा कि एयर इंडिया का विमान इटली के मिलान में फंसे भारतीय छात्रों को लाएगा। यह विमान शनिवार दोपहर वहां से रवाना होगा और रविवार सुबह दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचेगा। विदेश मंत्रालय के मुताबिक मिलान से 220 छात्रों को लाया जाएगा। मंत्रालय ने कहा है कि अगर और कोई छात्र वहां फंसे हो तो सरकार से संपर्क करें। टेस्ट में निगेटिव पाए जाने पर 236 लोग डिस्चार्ज किए गए: स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि सरकार अभी तक 42,296 यात्रियों की कॉम्युनिटी सर्विलांस के तहत जांच करवा चुकी है। इनमें से 2,559 लोगों में संक्रमण के लक्षण नजर आए थे। 522 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिनमें 17 विदेशी नागरिक हैं। दूसरे चरण में जांच के बाद निगेटिव पाए जाने पर जापान से लाए गए 124 और चीन से लाए गए 112 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है।