ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
दुष्कर्म और हत्या मामले में ट्रक डाइवर गिरफ्तार सिफर डॉग की मदद से आरोपी तक पहुंची पुलिस
December 3, 2019 • Dr. Surendra Sharma

टोंक। राजस्थान के टोंक में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म और हत्या मामले में पुलिस ने एक ट्रक ड्राइवर को गिरफ्तार किया है। एसपी आदर्श सिद्द ने बताया कि शुरुआती पूछताछ में आरोपी महेंद्र मीणा उर्फ धोल्या ने अपना गुनाह कबूल लिया है। आरोपी ड्राइवर बच्ची के गांव में ही रहता है। निफर डॉग की मदद से पुलिस आरोपी तक पहुंची। बच्ची को टॉफी खिलाने के बहाने साथ ले गया था आरोपी: पुलिस के अनुसार ड्राइवर ने नशे की हालत में बच्ची को टॉफी का लालच देकर अपने साथ ले गया। कई घंटे उसे घुमाता रहा। इसके बाद दुष्कर्म किया और फिर गला दबाकर बेरहमी से बच्ची की हत्या कर दी। इसके बाद शव को गांव में ही झाड़ियों में फेंक कर घर चला गया। जिसके बाद देरशाम तक खबर नहीं मिलने पर परिजन बच्ची को ढूंढने निकले। इस दौरान आरोपी भी बच्ची को ढूंढने के लिए परिजनों के साथ घूमता रहा।पुलिस को जब खेड़ली गांव में बच्ची का शव मिलने की सूचना मिली तो डॉग स्क्ववायड को भी ले गई। निफर डॉग घटनास्थल से आरोपी के घर के पास पहुंच गया।

पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ की। इस दौरान पुलिस को पता चला कि एक ट्रक ड्राइवर का घर है वह देर रात घर पहुंचा था। पुलिस ने जब घर जाकर जांच की तो ड्राइवर घर पर नहीं था। आरोपी की मां ने पुलिस को बताया कि उसका बेटा रातभर से शराब पी रहा है और कुछ बड़बड़ा रहा है। जिसके बाद महेंद्र की तलाश की गई। जिसे कुछ देर बाद गांव से ही गिरफ्तार कर लिया गया। यह था मामला? टोंक जिले के खेड़ली गांव में 6 साल की बच्ची शनिवार को लापता हो गई थी। रविवार को गांव में ही झाड़ियों में उसका शव मिला। दुष्कर्म के बाद बच्ची के यूनीफार्म की बेल्ट से ही गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई थी। दरिंदे ने बेल्ट से गला इतने जोर से दबाया था कि बच्ची की आंखें तक बाहर निकल आईं थी।

पूछताछ में गुनाह कबूलाः पुलिस इसके बाद पुलिस ट्रक ड्राइवर को पकड़कर थाने ले आई। वहां पर पहले उसका नशा उतारा गया। फिर उससे पूछताछ की गई। बताया जा रहा है कि आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया हैउसने बताया कि जब उसने वारदात को अंजाम दिया तब वह शराब के नशे में धुत था। पुलिस को जहां बच्ची का शव मिला उससे कुछ दूरी पर शराब, बीयर की टूटी बोतलें मिली थी। वहीं पास में ही टॉफी की पन्नियां, जर्दे, गुटखे के पाउच मिले थे