ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
दुबई में 25 लाख सालाना की नौकरी छोड़ सरपंच का चुनाव लड़ने गांव पहुंचीं सुनीता
January 21, 2020 • Dr. Surendra Sharma

निजी संवाददाता

सीकर। ये 36 साल की सुनीता कंवर हैं। ग्रेजुएट हैं। अभी तक दुबई में एक शिपिंग कंपनी में जॉब करती थीं। सालाना पैकेज 25 लाख रुपए था। लेकिन, अब राजस्थान पंचायत चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहीं हैं। सुनीता सीकर के श्रीमाधोपुर र के पास नांगल गांव से सरपंच का चुनाव लड़ रहीं हैं। 13 साल से दुबई में रहती थीं सनीता सुनीता ने कहा, 'नांगल उनका ससाला व ससुराल है। वे पिछले 13 साल से पति के साथ दुबई में रहती थीं। गांव का विकास करना चाहती हैंइसलिए सरपंच का चुनाव लड़ रहीं हैं।' उन्होंने आगे कहा- अगर वह सरपंच का चुनाव जीतती है तो गांव में बिजली, पानी, रोजगार, स्वास्थ्यबालिका शिक्षा जैसी समस्याओं पर काम करेंगी।

सुनीता के पति जोधा सिंह शेखावत दुबई में ही नौकरी करते हैं। जबकि ससुर दिगपाल सिंह और परिवार के अन्य लोग नांगल गांव में रहते हैं। सुनीता कंवर ने बताया कि जीवन में भगवान से जो चाहा, उससे ज्यादा मिला है। अब देश में अपने ससुराल में रहकर समाज सेवा करने की ठानी है। इसके लिए अब गांव आकर चुनाव लड़ने की सोची।

सुनीता के परिवार में कोई राजनीति में नहीं: सुनीता कहती दुबई में जॉब के दौरान महसूस किया कि वहां (दुबई) रहने वाले लोग अपनी माटी लोगों के लिए बहुत कुछ करने चाहत रखते हैं।' उन्होंने बताया कि मायके और ससुराल में कभी भी कोई राजनीति नहीं है। वह कहती हैं कि अगर सरपंच चुनाव नहीं भी जीती तो भी एनजीओ माध्यम से गांव के विकास का विकास करेगी।

राजस्थान में चार चरण में सरपंच का चुनाव: राजस्थान में चार चरणों में 4 सरपंच के चुनाव हो रहे हैं। पहले चरण का चुनाव 18 जनवरी हो चुका है। इसमें 2726 सरपंच चुने गए। अब 22 जनवरी को दूसरे, 29 जनवरी को तीसरे और 1 फरवरी को चौथे चरण के चुनाव होने हैं।