ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
दिल्ली में रैली / मोदी ने कहा... ये लोग बाटला हाउस के आतंकियों के लिए रो सकते हैं, लेकिन दिल्ली का विकास नहीं कर सकते
February 5, 2020 • Dr. Surendra Sharma

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर द्वारका में हुई जनसभा में केजरीवाल सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा-दिल्ली में ऐसा नेतृत्व चाहिए जो सीएए, अनुच्छेद 370 जैसे राष्ट्रीय सुरक्षा के तमाम फैसलों पर देश का साथ देने वाला हो। ये लोग बाटला हाउस के आतंकियों के लिए रो सकते हैं, उनका साथ देने के लिए सुरक्षाबलों को कठघरे में खड़ा कर सकते हैं, लेकिन दिल्ली का विकास नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा- सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद यहां की सरकार में बैठे लोगों ने कैसे बयान दिए थे याद है न? उन बयानों का गुस्सा है कि नहीं है? अगर गुस्सा है तो 8 तारीख को निकलना चाहिए कि नहीं, सजा मिलनी चाहिए कि नहीं? रैली के दौरान मंच पर हरियाणा के उपमुख्यमंत्री और जननायक जनता पार्टी (जजपा) नेता दुष्यंत चौटाला भी मौजूद थे। हरियाणा में भाजपा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने जजपा के समर्थन से सरकार बनाई है। दिल्ली की 70 सीटों पर 8 फरवरी को मतदान होगा। नतीजे 11 फरवरी को आएंगे।

मोदी ने कहा- यहां एक बेदर्द सरकार बैठी है, जिसे आपकी परवाह नहीं है। दिल्ली के गरीबों का क्या गुनाह है, जो उन्हें 5 लाख रुपए तक मुफ्त इलाज की सुविधा देने वाली आयुष्मान योजना का लाभ नहीं मिलता। दिल्ली का कोई आदमी देश के किसी शहर में गयाऔर वहां बीमार हो गया तो क्या मोहल्ला क्लीनिक वहां जाएगी? आयुष्मान भारत योजना से उसका मुफ्त में इलाज हो जाता।

प्रधानमंत्री ने कहा- देश की राजधानी दिल्ली का विकास 21वीं सदी की अपेक्षाओं, आशाओं के सदी की अपेक्षाओं, आशाओं के मुताबिक होना पूरे देश के लिए आवश्यक है। ये तभी संभव हो की संभव हो सकता है जब नकारात्मकता की राजनीति खत्म हो।