ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
चंदन की तस्करी करते तीन आरोपी गिरफ्तार
September 12, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 चंदन की तस्करी करते तीन आरोपी गिरफ्तार

       चित्तौड़गढ़ 12 सितम्बर। जिला पुलिस स्पेशल टीम व पुलिस थाना सदर द्वारा  सयुंक्त कार्यवाही करते हुए तीन चन्दन तस्करों को अवैध रूप से चन्दन ले जाते हुए धर दबोचा। पूरे मामले की जानकारी देते हुए दीपक भार्गव जिला पुलिस अधीक्षक चित्तौड़गढ़ ने बताया कि जिला विशेष टीम को दिनाक 11.9.2020 को सूचना मिली कि चंदन तस्कर बेंगु की तरफ से चंदन की लकड़ी रिट्ज कार में भर कर निकुंभ की तरफ लेकर जा रहे है ,जिस पर उक्त सूचना की पुष्टि और कार्यवाही हेतु सरितासिंह अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिला विशेष टीम प्रभारी शिवलाल मीणा के नेतृत्व में जिला स्पेशल टीम के  रामावतार, राजेश, सुनील कुमार और थाना सदर चित्तोर थानाधिकारी विक्रम सिंह , देवीलाल मय जाप्ता के द्वारा संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुए ,मुताबिक सूचना के थाना सदर चित्तौड़ अंतर्गत ओछड़ी पुलिया के ऊपर कोटा उदयपुर फोर लाइन पर नाकाबंदी शुरू की तो बस्सी की तरफ से एक रीट्ज गाड़ी आई ,जिसको रोकने का इशारा किया तो गाड़ी चालक गाड़ी को वापस घुमा कर भागने लगा ,जिसको पुलिस जाप्ता ने घेरा देकर पकड़ा तो गाड़ी में चालक सहित तीन व्यक्ति बैठे हुए पाए गए।उक्त तीनों व्यक्तियों का नाम पता पूछा तो उन्होंने अपना नाम 1. आसिफ पिता हेमदनुर खा मुसलमान उम्र 25 साल निवासी मोहम्मद पुरा थाना निकुम्भ 2.अयूब खान उर्फ भूरा खान पिता मोहम्मद दराज का उम्र 30 साल निवासी नपावली 3. असलम पिता मुन्ना खा पठान मुसलमान उम्र 22 साल निवासी नपावली थाना निकुंभ का होना बताया । उनके कब्जे मिली कार रिट्ज को चेक किया तो कार की डिग्गी में एक बोरे में अवैध रूप से काट कर लाई गई चंदन की लकड़ी भरी हुई पाई गई ,जिसके बारे में उक्त तीनों आरोपियों से परिवहन करने बाबत लाइसेंस या अनुज्ञा पत्र के बारे में पूछा तो नहीं होना बताया जिससे उक्त चंदन की लकड़ी का अवैध तरीके से काट कर ,कब्जे में रख परिवहन करना ,फॉरेस्ट एक्ट की परिधि में आना पाया जाने से ऊक्त चंदन की गीली लकड़ी का बजन किया गया तो कुल बजन 49 किलो 500 ग्राम हुआ जिस पर ऊक्त बरामद अवैध चंदन की गीली लकड़ी व रिट्ज कार को बजह सबूत जब्त किया गया तथा उपरोक्त तीनों आरोपियों को मौके पर ही गिरफ्तार किया जाकर पूछताछ की गई तो उपरोक्त तीनों आरोपियों ने बताया कि अलग-अलग जगह से चंदन के पेड़ खरीद कर व काटकर गाड़ी में रख कर सादलखेडा ,निकुंभ में इकट्ठा करते है, वहा से कानपुर (up)के तस्करो को 4,000 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बेचते हैं और मोटा मुनाफा कमाते है। इस प्रकार से पकड़ी गई चंदन की लकड़ी का मूल्य करीब 2 लाख रुपए के लगभग बताया गया है ।उपरोक्त आरोपी करीब 4 से 5 साल से चंदन की तस्करी का काम कर रहे हैं ।आरोपी अयुब खान उर्फ भूरा खान पूर्व में 4 वर्ष पूर्व थाना चंदेरिया में,2 वर्ष पूर्व थाना निम्बाहेड़ा में ,एक वर्ष पूर्व भींडर थाना में चंदन व खैर की लकड़ी के अवैध परिवहन व चोरी के मामले में तथा आरोपी आशिफ खान 2 वर्ष पूर्व गुलाब बाग, उदयपुर से चंदन चोरी के मामले में थाना सूरजपोल(उदयपुर) पर ,रेलवे कॉलोनी रतलाम से चंदन चोरी करने के मामले में जीआरपी थाना रतलाम में पूर्व में गिरफ्तार हुआ है। ऊक्त आरोपीगणों से पूछताछ पर चन्दन चोरी की अन्य वारदातों के भी खुलने की शम्भावना है।उपरोक्त तीनों आरोपीगणों के खिलाफ फॉरेस्ट एक्ट मे थाना सदर चितौड़गढ़ में प्रकरण दर्ज किया जाकर कारवाही जारी है।