ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
भारतीय किसान संघ की दो दिवसीय बैठक सम्पन्न. 
September 2, 2020 • Dr. Surendra Sharma

भारतीय किसान संघ की दो दिवसीय बैठक सम्पन्न.         जयपुर 2 सितम्बर । भारतीय किसान संघ राजस्थान प्रदेश की दो दिवसीय प्रदेश कार्यकारिणी बैठक प्रदेश कार्यालय वैशाली नगर जयपुर में बुुधवारको  संपन्न हुई । बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री  गजेंद्र सिंह प्रदेश अध्यक्ष मणिलाल लबाना प्रदेश संगठन मंत्री राजवीर सिंह प्रदेश महामंत्री कैलाश गंदोलिया उपस्थित रहे तथा अन्य उपस्थित कार्यकारिणी सदस्यों का विभिन्न विषयों पर मार्गदर्शन भी किया।

 भारतीय किसान संघ राजस्थान के नेतृत्व मे पिछले महीने 27 दिन चले महापड़ाव जिसमें जोधपुर जिले के माणकलाव स्थान पर किसान अपने अधिकार व हक के लिये धरने पर बैठे थे। धरने के दौरान तबियत बिगड़ने व मानसिक अवसाद से एक युवा किसान माननीय पुखराज जी शहीद हो गये किसान संघ की प्रदेश कार्यकारणी के सभी सदस्यों ने 2 मिनट का मौन रखकर अपने युवा साथी को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित की।तथा जोधपुर आंदोलन की समीक्षा की राजस्थान का किसान एक युवा किसान की शहादत को भूलेगा नहीं और अपने युवा साथी की आसामयिक शहादत पर पर आक्रोशित है। सरकार की असंवेदनशीलता के चलते पहले ही राजस्थान में किसानों ने आत्महत्या की है ।

अब सरकार की हठधर्मिता से धरने के दौरान तबीयत बिगड़ने से किसान की मृत्यु हुई है । सभी किसान बंधु आक्रोशित है एवं गहरी संवेदना व्यक्त करते है।भारतीय किसान संघ के नेतृत्व में मर्यादित आंदोलन चलाते हुये प्रदेश के सभी जिले के किसानों ने 12 फरवरी से विभिन्न माध्यमों द्वारा 3500 से अधिक ज्ञापन देकर सरकार व प्रशासन को स्पष्ट चेताया कि किसानों की समस्याओ का समाधान नही हुआ तो किसान भारतीय किसान संघ के नेतृत्व आंदोलन को व्यापक रूप दिया जायेगा जिसकी जिम्मेदारी सरकार व प्रशासन की होगी।

         प्रदेश महामंत्री कैलाश गंदोलिया ने कहा कि इसी क्रम में 5 अगस्त से किसान धरना कर रहे थे धरने के 25 वें दिन सरकार की असंवेदनशीलता के कारण पुखराज जी शहीद हुये हैं और विडंबना है कि राजस्थान सरकार किसानों की आवाज कुचलने के लिये सरकारी तंत्रों का दुरुपयोग कर किसान पुखराज को कोरोना पॉजिटिव प्रर्दशित कर दिया हैं जो दुर्भाग्यपूर्ण हैं भारतीय किसान संघ शांति व संयम के साथ पुखराज को न्याय दिलाने के लिये कटिबद्ध हैं। 

इस संदर्भ में

★ शहीद पुखराज के परिवार को 1 करोड़ का मुआवजा व परिवार के सदस्य को सरकारी नोकरी की मांग करते है।

★पुखराज जी को शहीद किसान का दर्जा सरकार दे।

★ किसानों की मांगों को पूरी करने के बजाय समस्याओं के समाधान हेतु संघर्षरत कृषकों की आवाज दबाने के हेतु कोरोना की आड़ लेकर प्रशासन ने फर्जी मुकदमें किये हैं उन्हें मुकदमों को तुरंत निरस्त करें और किसानों की मांगों को पूरी करें।

भारतीय किसान संघ मीडिया के माध्यम से स्पस्ट संदेश देना चाहते है कि सरकार कोरोना की झूठी आड़ लेकर किसानों की आवाज को कुचलने की षड्यंत्र से बाज नही आयी तो भारतीय किसान संघ की प्रदेश कार्यकारिणी आगामी दिनों में जोधपुर की तरह सभी जिलों में ग्राम से संग्राम के आह्वान करेगा।