ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
भारत की अर्थव्यवस्था में तेजी से विकास करने की क्षमता, इससे लोगों की गरीबी दूर हो सकेगी: बिल गेट्स
November 18, 2019 • Dr. Surendra Sharma

एजेंसी

नई दिल्ली। दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति और माइक्रोसॉफ्ट के सहसंस्थापक बिल गेट्स ने कहा कि भारत में अगले दशक में बहुत तेजी से आर्थिक विकास करने की क्षमता है। इससे लोगों की गरीबी दूर हो सकेगी और सरकार स्वास्थ्य और शिक्षा में अधिक निवेश कर सकेगी। एक न्यूज एजेंसी को दिए साक्षात्कार में गेट्स ने भारत की आधार पहचान प्रणाली, वित्तीय सेवाओं और फार्मा सेक्टर की तारीफ की। गेट्स की प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है, जब एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भारत में वर्तमान में मंदी का दौर चल रहा है और लगभग सभी सेक्टरों में पिछले समय में गिरावट देखी गई है। गेट्स ने कहा, 'मुझे हालिया समय की ज्यादा जानकारी नहीं है, लेकिन मैं कहना चाहूंगा अगला दशक भारत का होगा और इस दौरान इसकी अर्थव्यवस्था तेजी से विकास करेगी। हर किसी को उम्मीद है कि वास्तव में भारत में उच्च विकास करने की प्रबल संभावना है।' उन्होंने आधार पहचान प्रणाली की सराहना करते हुए कहा, 'भारत एक महत्वपूर्ण स्थान है, जहां पर कई बेहतरीन इनोवेटर्स पाए जाते हैं। देश में आधार और यूपीआई के माध्यम से सेवाएं प्रदान की जा रही हैं और इसे व्यापक तौर पर स्वीकार किया गया हैइसके कई आश्चर्यजनक परिणाम देखने को मिले हैं।' बिल गेट्स की कुल संपत्ति 110 बिलियन अमरीकी डॉलरः गेट्स अपने फाउंडेशन के कामकाज की समीक्षा करने के लिए तीन दिवसीय भारत के दौरे पर हैं। शुक्रवार को बिल गेट्स ने अमेजन के जेफ बेजोस को पीछे कर दुनिया का सबसे धनी व्यक्ति बन गए थे। इनकी कुल संपत्ति 110 बिलियन अमरीकी डॉलर (7.89 लाख करोड़) है। गेट्स ने अब तक विभिन्न देशों में गरीबी को कम करने और सामाजिक विकास कार्यक्रमों के लिए बिल और मेलिंडा फाउंडेशन को 35 बिलियन अमरीकी डॉलर से अधिक का दान दिया है।