ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
अपने निर्णयों पर यू-टर्न लेने का देश में ऐसा पहला रिकाॅर्ड होगा गहलोत सरकार के नाम: डाॅ. सतीश पूनियां
February 9, 2020 • Dr. Surendra Sharma



भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां बाड़मेर प्रवास पर रहे, भाजपा नेता और पूर्व संघचालक के घर जाकर संवेदना व्यक्त की
जयपुर, 08 फरवरी 2020। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां आज बाड़मेर के दौरे पर रहे, इस दौरान मीडिया से बात करते हुए विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी के नागरिकता संशोधन कानून को लागू करने की बात पर कहा कि यू-टर्न लेना गहलोत सरकार की फितरत हो गई है, वे इसका विश्व रिकाॅर्ड बनाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि जैसलमेर, बाड़मेर, जोधपुर के अलावा और अन्य जिलों में एवं देश के कई हिस्सों में ऐसे विस्थापित रहते हैं, जिनके हित के लिए केंद्र सरकार ने नागरिकता कानून में संशोधन किया, जिससे उन्हें शीघ्र भारत की नागरिकता मिल सके। इस कानून के बनने से उनके अंदर एक उम्मीद जगी। इस कानून में संशोधन के प्रति कांग्रेस का नजरिया हमेशा विपरीत रहा। उन्होंने गुमराह करने की कोशिश की। खासकर मुस्लिम भाइयों के बीच में गलतफहमियां पैदा की। उन्हें गलत सूचनाएं दी। बरगलाने का प्रयास किया। यह भ्रम फैलाने की कोशिश की कि उनकी नागरिकता खतरे में आ जाएगी। जबकि भारत का संविधान का अनुच्छेद 10 यह साफ तौर पर कहता है कि किसी की नागरिकता नहीं ली जा सकती। यह नागरिकता देने का कानून था, लेने का नहीं। कांग्रेस ने आनन-फानन में राज्य की विधानसभा में केवल राहुल गांधी के राजस्थान की राजधानी जयपुर में युवा आक्रोश रैली के लिए उनके तुष्टिकरण हेतु, नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ संकल्प पारित करवाया। कांग्रेस के नेताओं को यह पता था कि उन्हें यह कानून यहां लागू करना ही पड़ेगा, लेकिन राहुल गांधी के संतुष्टि के लिए ऐसा कार्य किया।
डाॅ. पूनियां ने कहा कि कल जो विधानसभा के अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा वह बहुत मायने रखता है। वह कांग्रेस के पुराने और बड़े नेता रहे हैं। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून सरकार रोक नहीं सकती, लागू करना ही पड़ेगा। उन्होंने कहा मुझे लगता है कि यह बड़ी स्वीकारोक्ति है, कांग्रेस के नेता सलमान खुर्शीद, शशि थरूर, जयराम रमेश इत्यादि नेता इसके बारे में यही बात पहले कर चुके हैं, लेकिन राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यहां अराजकता फैलाने की कोशिश की। कांग्रेस नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर कांग्रेस बैकफुट पर आ रही है।
डाॅ. पूनियां ने कहा कि यू-टर्न लेने का विश्व रिकाॅर्ड मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम पर लिखा जाएगा। अनेक ऐसी योजनाएं है जिनके बारे में वह अपने विचार लगातार बदलते रहते हैं और नागरिकता संशोधन कानून पर भी उन्होंने ऐसा ही किया। उन्होंने खुद अपने घोषणापत्र में इसका उल्लेख किया था। बिजली की दरों के लिए भी उन्होंने कहा था कि हम 5 वर्षों तक दाम नहीं बढ़ाएंगे, लेकिन अब बढ़ा दिए। किसानों को रात में बिजली देकर इस कड़ाके की ठंड में परेशान कर रहे हैं। बिजली के दामों पर 11 फीसदी वृद्धि करके उन्होंने प्रदेश की जनता को परेशान किया है।
डाॅ. पूनियां ने पश्चिमी राजस्थान में टिड्डियों के हमलों पर बोलते हुए कहा कि इस पर राजस्थान सरकार की नैतिक जिम्मेदारी बनती है। टिड्डी ऐसा जीव है जो प्राकृतिक रूप से पनपता है और इसका हमला बहुत बड़ा नुकसान करता है। यह बात सही है कि इसकी उत्पत्ति जहां से होती है, वहां की जानकारी पहले नहीं मिल पाती है, लेकिन प्राथमिक तौर पर इसका उपचार यहां के किसानों को संबल और सहायता देकर किया जा सकता है। अभी भी राजस्थान में खरबों रुपये का नुकसान हुआ है। इस नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार को कोई न कोई कदम उठाना चाहिए। इस मामले में सरकार की तरफ से लापरवाही हुई है।

अपने दौरे के दौरान डाॅ. सतीश पूनियां ने भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता ओम त्रिवेदी के पिताजी के देहावसान पर शोक संतप्त परिवार से मिले, स्वर्गीय तन सिंह चैहान के घर जाकर परिजनों को संवेदना व्यक्त की।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला संघचालक स्वर्गीय पुखराज गुप्ता के निवास स्थान पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की|

पूर्व विधायक मेवाराम जैन के घर जाकर उनकी स्वर्गीया माताजी को पुष्पांजलि अर्पित की। पूर्व विधायक जालम सिंह रावलोत की माताजी के निधन पर भी  उनके घर जाकर शोक संवेदना व्यक्त की।