ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
आरएसएस का एजेंडा थोप रही है केंद्र सरकार, कब आरक्षण खत्म होने की घोषणा कर दें, भरोसा नहीं: सीएम गहलोत
February 17, 2020 • Dr. Surendra Sharma

जयपुर। भाजपा सरकार के आरक्षण विरोधी रवैये के खिलाफ राजस्थान में प्रदेश आदिवासी कांग्रेस, अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति विभाग द्वारा रविवार को कलेक्ट्री सर्किल पर धरना एवं प्रदर्शन रखा गया। इसमें शामिल हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार आरएसएस का एजेंडा थोप रही है। नोटबंदी की तरह यह सरकार कब अचानक आरक्षण को खत्म करने की घोषणा कर दें और कहें कि इसे आगे नहीं बढ़ाएंगे।

इसलिए प्रमोशन में आरक्षण को लेकर आए फैसले के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और बीजेपी सरकार में उसके अनुरूप राहुल गांधी ने तमाम राज्यों को संदेश दिया कि केंद्र सरकार की मंशा ठीक नहीं है। केंद्र सरकार जिस प्रकार से एजेंडा थोप रही है। यह एजेंडा आरएसएस का है। जिसे बीजेपी सरकार में उसके अनुरूप काम होते जा रहे हैं। आखिर ये देश को कहां ले जाकर छोड़ेंगे।देश की दशा क्या हो गई है। देश किस दिशा सीएम गहलोत के फैसले को आसानी से करवा में है। इसलिए महज 2 दिन पहले आह्वान के बाद हमें धरना देना पड़ा। मुख्यमंत्री ने संबोधन में कहा कि आरक्षण को लेकर खतरनाक खेल खेला जा रहा है। मैंने पिछली बार आरक्षण को लेकर लड़ाई लड़ी थी। तब हाईकोर्ट ने हमारे खिलाफ फैसला दिया। चीफ सेक्रेटरी को जेल तक भेज दिया। लेकिन हम लोग सुप्रीम कोर्ट से जीत कर आ गए। इसलिए आज राजस्थान में शांति है। सरकार के निर्णय से हर वर्ग आज खुश है। राजस्थान ऐसा वर्ग आज खुश है। राजस्थान ऐसा राज्य है जिसने पदोन्नति में आरक्षण के फैसले को आसानी से करवा दिया। लेकिन आज सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लोग स्वीकार नहीं करें। उसको दुर्भाग्यपूर्ण बता रहे है।