आखिर में कोरोना जयपुर में क्यों बेकाबू हो गया
May 15, 2020 • Dr. Surendra Sharma

 

*आखिर में कोरोना जयपुर में क्यूँ बेकाबू हो गया*

15 दिन की रैंडम सैंपलिंग में ही संक्रमित मिल गए 75 सुपर स्प्रेडर्स  अब तक 47 सब्जी, 12 किराना, 1 दूधवाला संक्रमित हो चुके निगम ने जिन्हें लाइसेंस दिया, उनमें एक ठेलेवाला और संक्रमित, अब तक 3

जयपुर 15 मई। राजधानी को नए खतरे ने जकड़ लिया है। बुधवार को जयपुर में 61 नए मामले आए। इसी के साथ यहां कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1342 पहुंच गया है। ...लेकिन खतरा इससे भी बड़ा है क्योंकि सड़कों पर घूम रहे कोरोना को अब सुपर स्प्रेडर्स घर-घर तक पहुंचा रहे हैं। बीते दो दिन में हुई रैंडम सैंपलिंग में 8 सब्जीवाले, एक शराब विक्रेता, गैस सप्लायर, 6 अाॅटाे वाले, 3 मैकेनिक, 1 नाई और 4 कुक संक्रमित पाए गए। नगर निगम ने जिन 900 लोगों को लाइसेंस दिए थे, उनमें भी एक ठेलेवाला और पॉजिटिव मिला है। निगम से ही तीन लाइसेंसधारी ठेले वाले पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं 15 दिन से जारी रैंडम सैंपलिंग में अब तक 67 सुपर स्प्रेडर्स संक्रमित मिल चुके हैं। नगर निगम के लाइसेंसधारी 3 और मुहाना मंडी में मिला एक पपीता व्यवसायी इनसे अलग हैं। इन्हें भी जोड़ दें तो *सब्जीवालों का आंकड़ा 43 हो जाएगा*। *सब्जीवाले शहर के 17 क्षेत्रों में कोरोना पहुंचा चुके हैं*।
पॉजिटिव मिला शराब विक्रेता रेगर बस्ती झोटवाड़ा, गैस सप्लायर ईदगाह, चारों कुक जौहारी बाजार क्षेत्र के मोती सिंह भोमिया का रास्ता, नाई केबीजी का रास्ता और 6 ऑटो चालक घाटगेट कोठी के रहने वाले हैं। हालांकि इन दिनों ऑटो बंद हैं लेकिन इनमें संक्रमण पाया गया। सीएमएचओ प्रथम डॉक्टर नरोत्तम शर्मा बाेले- संक्रमण को रोकने के लिए लगातार सुपर स्प्रेडर्स की जांच की जा रही है। सबसे ज्यादा मुश्किल सब्जी बेचने वालों के संपर्क में आए लोगों को ट्रेस करना है। 

सुपर स्प्रेडर्स के 15 दिन में 8615 सैंपल। दो दिन में रामगंज व सेंट्रल जेल से भी सैंपल लिए। करीब 950 लोग क्वारेंटाइन किए हैं।चारदीवारी से सटे 3 किमी क्षेत्र में ही 29 सब्जी विक्रेता, 12 दुकानदार संक्रमित मिले।

*काेरोना की होम डिलीवरी...*

क्योंकि शहर के 17 क्षेत्रों में सब्जी बेचने वालों और दुकानदारों ने फैलाया कोरोना 
जाैहरी बाजार क्षेत्र में 14, शास्त्री नगर में 12, आदर्श नगर में 7 सब्जीवाले संक्रमित
जौहरी बाजार में 14,  शास्त्री नगर 12, आदर्श नगर 7,  घाटगेट कोठी 6, चांदपोल 3, ईदगाह 3, भट्टा बस्ती 3 रामगंज 2, सुभाष चौक 2, जालूपुरा 2, सोडाला 2, , राजा पार्क 1, जयसिंह पुरा खोर 1, किशनपोल 1, मुरलीपुरा 1, हरमाड़ा 1, ब्रह्मपुरी 1, वीकेआई 1, झोटवाड़ा 1, ईदगाह 1, केजीबी का रास्ता 1, जवाहर नगर में 1 सुपर स्प्रेडर रैंडम सैंपल में संक्रमित मिले।  इसके अलावा सामान्य जांच में मुहाना मंडी में 1 पपीता व्यापारी और निगम के लाइसेंससुदा तीन ठेले वाले भी संक्रमित मिल चुके।

*इनके रैंडम सैंपल नहीं लिए थे*
*किट खत्म*, 
5 दिन से 250 ठेले वाले बिना जांच सांगानेर, मानसरोवर में सब्जी बेच रहे : नगर निगम ने सब्जी बेचने के लिए जिन 900 लोगों को लाइसेंस दिया था अब तक उन सभी की सैंपलिंग नहीं हो सकी है। अभी भी 250 फल-सब्जी वाले बिना जांच के सब्जी बांट रहे हैं। जांच नहीं करने के पीछे निगम जांच किट खत्म हाेने की बात कह रहा है। अब तक 650 ठेले वालों की जांच की गई है, इनमें बुधवार को एक और ठेला वाला पॉजिटिव पाया गया है। इन्हें मिलाकर लाइसेंसधारी ठेलावालों में कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़कर तीन हो गई।

 *जिन 250 लाइसेंसधारी ठेलावालों की जांच नहीं हुई, वे आज भी सांगानेर एवं मानसरोवर में घूम-घूमकर फल सब्जियां बेच रहे हैं*। यह ठेलाकर्मी अधिकृत वार्ड में पिछले पांच दिन से बिना जांच के फल-सब्जियां बेच रहे हैं। ऐसे में अगर यह ठेलाकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए तो संपर्क वालों को तलाश करना मुश्किल हो जाएगा।

जिन ठेलाकर्मियों को लाइसेंस दिया है, उनकी जांच के लिए ग्रामीण सीएमएचओ की टीम आने वाली थी, लेकिन उनके पास जांच किट खत्म है। - राष्ट्रदीप यादव, उपायुक्त, मानसरोवर जोन
यहां मिले पॉजिटिव... रामगंज 9, स्वामी बस्ती, जिला जेल में 5-5, शास्त्री नगर, चांदपोल में 4 मीनापाड़ा में 3, मंडी खेतान, पुरानी बस्ती में 2-2, गोकुलपुरा, दुर्गापुरा, विश्वकर्मा,  महादेव नगर, कोटपूतली, कुंडा चौराहा, गोविंदनगर, आमेर रोड, कृष्णानगर, वैशाली नगर, मालवीय नगर, आदर्श नगर, भट्टा बस्ती, जवाहर नगर, एमआई रोड, चांदी की टकसाल, जेके लोन अस्पताल, आरडी हॉस्पिटल, लूनियावास, जगतपुरा, बत्री बस्ती, ब्रह्मपुरी, पांच बत्ती, खातीपुरा, अम्बेडकर नगर, सोड़ाला महंत नगर, दुसाद नगर में 1-1 केस मिला।