ALL देश /विदेश राज्य अपराध खेल मनोरंजन/सिनेमा लाइफ स्टाइल धर्म हिन्दी साहित्य शिक्षा कारोबार
10 लाख लोगों की परीक्षा करवाने वाली कांग्रेस नीट व जेईई का विरोध क्यों कर रही हैं - प्रो. सारस्वत
August 29, 2020 • Dr. Surendra Sharma

10 लाख लोगों की परीक्षा करवाने वाली कांग्रेस नीट व जेईई का विरोध क्यों कर रही हैं - प्रो. सारस्वत

 

अजमेर - 28 अगस्त । पिछले दिनों से ही विभिन्न परीक्षाओं को लेकर देश मे राजनीतिक घमासान मचा हुआ है नीट व जेईई परीक्षा को नही करवाने को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा हैं जिसपर राजस्थान भाजपा के मीडिया पैनलिस्ट प्रो. बी.पी. सारस्वत ने राज्य सरकार पर हमला करते हुए कहा कि 

राजस्थान में लगभग 10 लाख छात्रों की विभिन्न परीक्षाओं को करवाने वाली आतुर कांग्रेस सरकार नीट व जेईई का विरोध क्यों कर रही हैं।

सारस्वत ने कहा कि मोदी सरकार के द्वारा लिए जा रहे लोककल्याणकारी फैसलों का विरोध करना कांग्रेस की फितरत हो गयी हैं, जबकि राजस्थान की कांग्रेस सरकार खुद ही नीट व जेईई परीक्षा को लेकर बेनकाब हो गईं है क्योंकि राजस्थान में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड,अजमेर द्वारा लाखो छात्रों की परीक्षा कोरोना काल मे कराई गयी, आने वाले समय मे बीएसटीसी की परीक्षा में 6 लाख 70 हजार छात्र छात्राएं इस परीक्षा में सम्मलित होने हैं, आरपीएससी द्वारा 1 लाख 17 हजार लोगों की वन सहायकों की परीक्षा करवाई जा रही हैं और माध्यमिक शिक्षा बोर्ड,अजमेर द्वारा लगभग डेढ़ लाख छात्रों की पूरक परीक्षा लेने हैं तो यह दोहरा मापदंड कांग्रेस क्यो अपना रही हैं।

 

सारस्वत ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा पर निशाना साधते हुए कहा कि मंत्रीजी का खुद का शिक्षा विभाग विभिन्न परीक्षाओं को करवा रहा है चाहे वह बोर्ड की हो या बीएसटीसी की जिनमे लाखो लोग बैठने हैं तो क्या उनके स्वास्थ्य की चिंता मंत्री जी को नही हैं ? इसका मन्त्री जी को राजस्थान की जनता,युवा व छात्रों को जवाब देना चाहिए न कि गुमराह करना चाहिए।

सारस्वत ने कहा कि प्रदेश की जनता व युवाओ ने कांग्रेस की काठ की हांडी देख ली हैं जो विधानसभा चुनाव के समय 3500 रुपये बेरोजगारी भत्ता देने का वादा करके अपने वादे से मुकर गए, कांग्रेस का काम गुमराह करना, जनता को बरगलाने का जो अब नही चलने वाला प्रदेश की जनता व युवा कांग्रेस की इन चालाकियों को समझ चुके।